7 नेचुरल नुस्ख़े जो जल प्रतिधारण को कम करने में हैं लाजवाब

17 दिसम्बर, 2018
शरीर में जल प्रतिधारण (water retention) कम करने के लिए हम कुछ ख़ास अर्क (infusions) के मूत्रवर्धक गुणों का फायदा उठा सकते हैं। ये पेय हमें ज्यादा मूत्रत्याग करने में मदद करेंगे। इस तरह शरीर को फुलाने वाले विषाक्त पदार्थ बाहर निकल जाते हैं। 

हमारे शरीर में होने वाले अस्वाभाविक वाटर रिटेंशन अर्थात जल प्रतिधारण  के बारे में बात करने से पहले इसके संभावित कारणों के बारे में जान लेना अच्छा रहेगा। क्या आप कभी-कभी फूला हुआ ( bloated) महसूस करते हैं? इसका कारण गर्मी, कुछ ऐसी खाई हुई चीजें, या आपका हार्मोन साइकल हो सकता है।

कारण जो भी हो, हम जानते हैं, फूला हुआ महसूस करना एक असहज करने वाली समस्या है। हम इससे तुरंत निजात पाना चाहते हैं। नीचे हम बिना किसी साइड इफेक्ट वाले ऐसे 7 टिप्स देना चाहते हैं जिनसे आप प्राकृतिक तरीके से जल प्रतिधारण (water retention ) को कम कर सकते हैं।

काढ़े (infusions), शेक या ड्राई ब्रशिंग से वाटर रिटेंशन का इलाज कैसे करेंगे, यह जानने के लिए आगे पढ़ें।

नेचुरल तरीके से जल प्रतिधारण में कमी लाने की बेहतरीन टिप्स

नेचुरल तरीके से जल प्रतिधारण में कमी

ऐसे खाद्य हैं जो जल प्रतिधारण का कारण बनते हैं, जबकि कुछ दूसरे खाद्य हमें उस समय शरीर में जमा अतिरिक्त तरल पदार्थ से छुटकारा पाने में मदद कर सकते हैं जब हम सामान्य से ज्यादा फूला हुआ महसूस करते हों।

जल प्रतिधारण को रोकने का पहला कदम उन खाद्य पदार्थों और पेय पदार्थों से परहेज है जो इसका कारण बनते हैं। इसकी कुंजी अपने आहार में नमक की मात्रा में कमी लाने में है। इसी तरह, उन सभी खाद्य पदार्थों से बचना अहम है जिनमें किसी न किसी रूप में यह मिला होता है, जैसे कि:

  • उपचारित पनीर (Cured cheese)
  • पका हुआ ठंडा गोश्त (Cold cuts) और स्मोक्ड मीट
  • डिब्बाबंद खाद्य पदार्थ और अचार
  • फ्राइज़, ऑलिव, एडेड साल्ट वाले नट्स, और ऐसे अन्य स्नैक्स
  • पिज्ज़ा और ऐसा अन्य पूर्व पका भोजन
  • सॉस

1. कम सोडियम और अधिक पोटैशियम

आम नमक (sodium chloride) को हमारे आहार से बाहर कर देना चाहिए।

हालांकि, हम कुछ कम मात्रा में समुद्री नमक या समुद्री पानी का सेवन कर सकते हैं। इन उत्पादों में पोटैशियम जैसे अन्य मिनरल होते हैं, जिनमें हमारे शरीर को संतुलित करने की क्षमता होती है।

इसे भी पढ़ें: कोलन को डिटॉक्स करने वाली 5 लाजवाब चाय कैसे बनायें

असल में, जैसे ही हमें सूजन महसूस हो, नमक से पूरी तरह परहेज करना चाहिए और पोटैशियम से समृद्ध खाद्य पदार्थ खाना शुरू कर देना चाहिए। ऐसे अच्छे विकल्पों को स्वीकृत दें:

  • एवोकैडो
  • नट्स (पिस्ता, हेज़लनट, नमक के बिना बादाम)
  • फलियां (Legumes)
  • क्विनोआ (Quinoa)
  • पालक (spinach)
  • नारियल
  • केला

2. पानी पियें

नेचुरल तरीके से जल प्रतिधारण में कमी के लिए पानी पियें

यह सलाह आपको कुछ विरोधाभासी लग सकती है। दरअसल पानी पीने से हमारे शरीर में जमा होने वाले अतिरिक्त तरल पदार्थों को बाहर निकालने में मदद मिलती है।

हालांकि, एक शर्त है: हमें पानी खाली पेट ही पीना चाहिए। अगर इसे खाने के समय या ठीक उसके बाद पीते हैं, तो इसका उल्टा असर होगा और हम और ज्यादा फूल जायेंगे।

सुबह दो गिलास पानी पीकर अपना दिन शुरू करें। यह न भूलें कि आपको सुबह और शाम कम से कम दो गिलास पानी पीना ही चाहिए। आप यह देखकर हैरान होंगे कि कितना अच्छा महसूस कर रहे हैं!

3. नाशपाती और सिंहपर्णी (Dandelion) शेक बनायें

अगर आपको शेक पसंद है, तो हम नाशपाती और डैन्डेलियन शेक आजमाने का सुझाव देंगे। इन दोनों में मूत्रवर्धक गुण (diuretic properties) होते हैं। दोनों ही जल प्रतिधारण को कम करने में मदद करेंगे, साथ ही आपके शरीर को मिनरल भी देंगे और आपके लीवर की मदद करेंगे।

यह भी पढ़ें: थोड़ी-थोड़ी देर में पेशाब क्यों आता है?

देश के कुछ क्षेत्रों में आप खेतों में उगने वाले डैन्डेलियन आसानी से पा सकते हैं। यदि यह विकल्प आपके लिए खुला नहीं है, तो इसे नेचुरल फ़ूड स्टोर से खरीद सकते हैं।

सामग्री

  • 1 चम्मच डैन्डेलियन (0.35 औंस)
  • 1 कप पानी
  • एक नाशपाती

इसे कैसे तैयार करें

  • पानी को गर्म करें। जब यह उबलने लगे तो इसमें एक चम्मच डैन्डेलियन डाल दें। मिश्रण को 10 मिनट तक उबालें।
  • इसके बाद इसे ठंडा होने दें।
  • नाशपाती को छील लीजिये, इसके बीज हटा दें और मिश्रण आसान बनाने के लिए इसे काट लें
  • एक फ़ूड प्रोसेसर में डैन्डेलियन मिश्रण और नाशपाती को रखें। जब तक आपको एक बराबर मिश्रण न मिल जाए इसे ब्लेंड करें।

4. जल प्रतिधारण कम करने के लिए तरबूज के जूस का मजा लें

तरबूज उम्दा फल है। इसमें पानी की बहुत ज्यादा मात्रा होती है जिससे यह फ्लूइड रिटेंशन को कम करने में मदद कर सकता है। इसके अलावा, इसमें कम कैलोरी होती है लेकिन यह पोटैशियम और एंटीऑक्सीडेंट से समृद्ध होता है।

तरबूज खाने का एक तरीका इसे बीज के साथ ब्लेंड कर लेना है। इस पेय को पूरे हफ्ते पियें

5. सेलरी और प्याज का सूप

सूप ठंडे दिनों में पीने के लिए विशेष रूप से शानदार होता है। उनमें न केवल मूत्रवर्धक गुण हैं बल्कि वे विषाक्त पदार्थों से शरीर को शुद्ध भी करते हैं।

जल प्रतिधारण को कम करने वाले सूप में हमें कम से कम सेलरी और प्याज ज़रूर डालनी चाहिए। ये दो सबसे ज्यादा मूत्रवर्धक सब्जियां आपके पास उपलब्ध हैं!

ये हमारे सूप को एक ख़ास जायका भी देंगे। आप दो वक्त के भोजन के बीच और स्टार्टर के रूप में सेलरी और प्याज के साथ सूप पी सकते हैं।

6. हॉर्सटेल और ग्रीन टी का अर्क

यह काढ़ा लिक्विड रिटेंशन को कम करने का एक आसान रास्ता है और इसे गर्म या ठंडा दोनों तरह से पिया जा सकता है। इसके अलावा, इस तरह के पेय पानी का सेवन बढ़ाने में मदद करते हैं।

हॉर्सटेल शरीर से लिक्विड को बाहर निकाल देता है। साथ ही यह सिलिकॉन जैसे अहम मिनरल की आपूर्ति भी करता है। यह हमें मिनरल्स को खोये बिना लगातार ज्यादा मूत्र त्याग करने में मदद करता है।

ग्रीन टी एक अनिवार्य पेय है: मूत्रवर्धक होने के अलावा यह शक्तिशाली एंटीऑक्सीडेंट भी है।

आप दोनों इन्ग्रेडिएंट को इकट्ठे या अदल-बदल कर ले सकते हैं। हम इन्हें पूरी सुबह पीने की सलाह देते हैं।

7. ड्राई ब्रशिंग

ऐसा करने के लिए आपको बस एक नेचुरल ब्रिस्टल वाले ब्रश की ज़रूरत है। यह तरीका आपके लिम्फैटिक सिस्टम से जल निकासी को उत्तेजित करता है और शरीर में जमा होने वाले अतिरिक्त तरल पदार्थों को हटाने में मदद करता है

आप अपनी त्वचा पर 10 से 20 मिनट तक ड्राई ब्रश कर सकते हैं। जब आप सूजन (bloating) का शिकार हों तो यह ज्यादा मूत्र त्याग के अलावा  आपके ब्लड सर्कुलेशन को बढ़ाएगा और आपकी त्वचा को अच्छा महसूस होगा।