दस खाद्य जो शरीर में ख़ून की कमी दूर करने में मददगार हैं

मई 25, 2019
शरीर में ख़ून की कमी दूर करने के लिए आपको प्रचुर मात्रा में आयरन वाले खाद्य पदार्थ खाना चाहिए। इसके अलावा विटामिन C को भी अपनी डाइट में शामिल करना चाहिए क्योंकि यह शरीर में आयरन का अवशोषण बढ़ाता है।

एनीमिया यानी शरीर में ख़ून की कमी (Anemia) खानपान से संबंधित स्वास्थ्य समस्या है। अक्सर इसका कारण पोषक तत्वों से भरपूर भोजन न करना है। यहां यह बताना ज़रूरी है कि जिस तरह खराब डाइट इस समस्या को बढ़ावा देती है, वैसे ही संतुलित डाइट ख़ून की कमी दूर करने में आपकी मदद करती है।

इस लेख में हम आपको एनीमिया के बारे में ज़रूरी जानकारी देंगे और इसका मुक़ाबला करने में मददगार कुछ विशेष दिशानिर्देश भी देंगे।

ख़ून की कमी या एनीमिया (Anemia) क्या है?

एनीमिया (Anemia) एक ऐसी स्वास्थ्य समस्या है जिसमें ख़ून में मौजूद लाल रक्त कोशिकाओं का आकार या मात्रा कम हो जाती है। इसी तरह ख़ून में हीमोग्लोबिन का कम स्तर भी इसका विशिष्ट लक्षण है।

सामान्य तौर पर ख़ून की कमी सही डाइट न लेने का कारण होती है। इस डाइट में आयरन, फोलिक एसिड और विटामिन B12 जैसे सूक्ष्म पोषक तत्वों की कमी होती है।

इसे भी पढ़ें : चुकंदर का जूस पीने के अद्भुत फायदे

ख़ून की कमी के प्रकार

ख़ून की कमी के प्रकार

सबसे आम एनीमिया आयरन की कमी के कारण होती है। यह तब होती है जब आप इस पोषक तत्व से भरपूर मात्रा वाले खाद्य पदार्थ नहीं खाते हैं। लेकिन यह तब भी होती जब आंतों के सही तरह से कार्य नहीं करने के कारण आयरन का अवशोषण नहीं हो पाता है।

इसके अलावा एनीमिया ख़ून बहने, सर्जरी या मासिक धर्म के कारण अत्यधिक ख़ून की कमी होने से भी होती है।

ख़ून में आयरन की कमी से लाल रक्त कोशिकाओं का सामान्य रूप से दोबारा उत्पादन बंद हो जाता है। इसीलिए हमारा शरीर जितनी ज़रूरत होती है, उससे कम लाल रक्त कोशिकाओं का निर्माण करता है। इतना ही नहीं, जो थोड़ी बहुत लाल रक्त कोशिकाएं शरीर बनाता है, वे भी आम तौर पर बहुत छोटी होती हैं और उनमें हीमोग्लोबिन का स्तर भी बहुत कम होता है।

साथ ही, फोलिक एसिड या विटामिन B12 की कमी के कारण भी शरीर में ख़ून की कमी हो सकती है। फोलिक एसिड की कमी के मामले में लाल रक्त कोशिकाएं आकार में बड़ी लेकिन भंगुर होती हैं।

लक्षण

ख़ून की कमी से पीड़ित व्यक्ति में ये मुख्य लक्षण नज़र आते हैंः

  • थकान
  • लगातार तेज़ ठंड का अहसास
  • कंपकंपी
  • सिरदर्द

समान्यतः त्वचा का पीलापन सबसे स्पष्ट रूप से दिखने वाला संकेत है लेकिन शरीर में ताक़त की कमी और कमज़ोर मनोदशा भी स्पष्ट रूप से नज़र आती है।

ख़ून की कमी दूर करने के लिए डाइट

ख़ून की कमी कुछ पोषक तत्वों की पूर्ण कमी होने के कारण होती है। इसीलिए खनिज और विटामिन से भरपूर खाद्य पदार्थों का सेवन करके इसकी भरपाई की जा सकती है।

सबसे पहली बात जो आपको जाननी है वह यह है कि आपके शरीर को रोज़ाना कितनी मात्रा की ज़रूरत पड़ती है। गर्भावस्था जैसे विशेष मामलों को छोड़कर एक स्वस्थ व्यक्ति के लिए रोज़ाना नीचे दी गई मात्रा ज़रूरी है।

  • आयरनः 8 एमजी पुरुषों के लिए और 18 एमजी महिलाओं के लिए
  • फोलिक एसिडः लगभग 400 माइक्रोग्राम
  • विटामिन B12ः लगभग 2.4 माइक्रोग्राम

आपके शरीर में ख़ून की कमी होने का जोख़िम कम करने और उसे दूर करने में मददगार कुछ खाद्य पदार्थ ये हैं।

1. अल्फाल्फा स्प्राउट्स (Alfalfa Sprouts)

प्रत्येक 100 ग्राम (3.52 आउंस) अल्फाल्फा स्प्राउट्स का सेवन आपको 10 मिलीग्राम तक आयरन प्रदान कर सकता है। इसके अलावा इसमें विटामिन C भी होता है जो ख़ून की कमी दूर करने में आपकी मदद करता है क्योंकि यह आयरन अवशोषण सुधारने में मदद करता है। 

इसे भी पढ़ें : 6 पोषक तत्व जिनकी आपको जरूरत है, अगर आप 40 से ऊपर हैं

2. ओट्स (Oats)

ख़ून की कमी के प्रकार : ओट्स

प्रत्येक 100 ग्राम (3.52 आउंस) ओट्स या जई का सेवन करने पर आपके शरीर को लगभग 5 ग्राम आयरन प्राप्त होता है। इस तरह, एक कप ओट्स आपको रोज़ाना की ज़रूरत का 50% आयरन मुहैया करवा सकता है।

3. रेड मीट (Red Meat)

वसा रहित मांस या रेड मीट में भी आयरन होता है। प्रत्येक 100 ग्राम (3.52 आउंस) मीट का सेवन करने पर आपको 3 मिलीग्राम आयरन मिलता है। हालांकि यह सुनिश्चित करें कि जो मांस आप खाएं उसमें बहुत ज़्यादा फैट न हो।

4. सूखी अंजीर (Dried Figs)

सूखी अंजीर एक अन्य खाद्य है जो ख़ून की कमी दूर करने में आपकी मदद कर सकता है। इसके प्रति 100 ग्राम (3.52 आउंस) में 4.2 मिलीग्राम आयरन होता है। ताज़ा अंजीर में भी आयरन होता लेकिन बहुत कम मात्रा में – प्रति 100 ग्राम (3.52 आउंस) में 0.6 मिलीग्राम।

5. कीवी (Kiwi)

ख़ून की कमी के प्रकार : कीवी

कीवी में भरपूर मात्रा में विटामिन C होता है। प्रति 100 ग्राम (3.52 आउंस) में लगभग 98 मिलीग्राम। इसमें आयरन नहीं होता है लेकिन यह शरीर को विटामिन C देता है जो अन्य स्रोतों से प्राप्त आयरन का अवशोषण बढ़ाने में मददगार है।

6. दालें (Lentils)

दालों में प्रति 100 ग्राम (3.52 आउंस) 3.3 मिलीग्राम आयरन होता है। इसके अलावा इनमें महत्वपूर्ण पोषक तत्व जैसे कि फोलिक एसिड और कॉपर होते हैं।

7. खमीर (Brewer’s Yeast)

खमीर (brewer’s yeast) में कई तरह के और विभिन्न मात्रा में खनिज, सूक्ष्म पोषक तत्व और प्रोटीन होते हैं। इसमें सभी प्रकार के विटामिन B भी होते हैं।

8. मिसो (Miso)

मिसो एक मसाला है जो सॉय (Soy), खाद्यान्न और समुद्री नमक से बनता है। सभी प्रकार के मिसो आयरन प्रदान करते हैं लेकिन सबसे लाभदायक हैचो (Hatcho) है क्योंकि इसमें प्रति 100 ग्राम (3.52 आउंस) में 7.1 मिलीग्राम आयरन होता है।

9. पिस्ता

ख़ून की कमी के प्रकार : पिस्ता

पिस्ता ख़ून की कमी दूर करने में मददगार साबित हो सकते हैं क्योंकि इनमें प्रति 100 ग्राम (3.52 आउंस) में 3.9 मिलीग्राम आयरन होता है।

यही नहीं, ये प्रति 100 ग्राम (3.52 आउंस) में 1.2 मिलीग्राम कॉपर भी मुहैया करवाते हैं। यह वह खनिज है जिसकी कमी से ख़ून की कमी हो सकती है। इस तरह, इनो दोनों पोषक तत्वों का संयोजन ख़ून की कमी दूर करने में मददगार साबित हो सकता है।

10. चुकंदर (Beets)

चुकंदर प्रति 100 ग्राम (3.52 आउंस) में 0.80 मिलीग्राम आयरन मुहैया करवाते हैं। इनमें फोलिक एसिड और विटामिन C भी होता है।

ये सभी पोषक तत्व मिलकर एक ऐसा अवरोधक बनाते हैं जो आपके शरीर में ख़ून की कमी नहीं होने देता है। फिर भी किसी भी स्थिति में किसी ऐसे पेशेवर की सलाह ज़रूर लें जो रिकवरी प्रक्रिया के दौरान आपकी मदद कर सकता है।

विशेषज्ञ आपको यह बताएंगे कि आपको अपनी ज़रूरत के अनुसार कौन से खाद्य पदार्थों का सेवन करना चाहिए। ध्यान रखें कि नियंत्रित तरीके से ख़ून की कमी दूर करने के लिए आपको एक विशेष डाइट का पालन करना चाहिए।