वेरीकोस वेंस को कम करने वाली स्मूदी

जनवरी 16, 2020
वेरीकोस वेंस का होना बहत आम हैं! डाइट और एक्सरसाइज के अलावा वेरीकोस वेंस को कम करने के लिए यहां पांच स्मूदी की रेसिपी हैं।

पैरों में वेरीकोस वेंस का होना सौंदर्य समस्या भी पैदा करता है। वे न सिर्फ त्वचा पर अनचाहे धब्बों का कारण बनते हैं, बल्कि यह भी संकेत देते हैं कि शरीर के निचले हिस्सों में खून का प्रवाह कमजोर है। इसका मतलब है खून दिल में वैसे वापस नहीं आ रहा है जैसे उसे आना चाहिए। अगर आप कुछ आसान स्मूदी रेसिपी से वेरीकोस वेंस को कम करना चाहते हैं तो पढ़ते रहें!

इससे पहले कि हम वेरीकोस वेंस को कम करने की बात करें, यह बताने की ज़रूरत है कि यह क्या है। दरअसल यह स्थिति शरीर की सामान्य इन्फ्लेमेटरी प्रक्रियाओं में असंतुलन के कारण पैदा हो सकती है। एक और आम कारण है ब्लड सर्कुलेशन को रेगुलेट करने वाले वाल्व का कमजोर होना।

वैसे तो वेरीकोस वेंस अपने शुरुआती स्टेज में दर्दनाक नहीं होते, लेकिन वे पैरों में भारीपन, सूजन और दूसरी जटिलताओं का कारण बन सकते हैं।

वेरीकोस वेंस की समस्या बहुत ही आम है। एडिनबरा वींन स्टडी के शोधकर्ताओं ने पाया कि उनके लगभग 80% मरीज किसी न किसी प्रकार की वेरीकोस वेंस के शिकार थे। मोरेसो समेत साथ और सत्तर के दशक में लोकप्रिय अध्ययनों के विपरीत महिलाओं के मुकाबले पुरुषों में वेरीकोस वेंस कुछ ज्यादा मिलते हैं!

सौभाग्य से प्राकृतिक उपायों की एक पूरी जमात है जो आपके शरीर के ब्लड सर्कुलेशन में सुधार करती हैं। दरअसल कुछ खाद्य पदार्थ इसके लक्षणों को कम करने और वेरीकोस नसों को कम करने में मदद करते हैं। उदाहरण के लिए अंगूर और स्ट्रॉबेरी ब्लड वेसेल को फिर से जीवंत बनाने में मदद करते हैं, जबकि लहसुन कोलेस्ट्रॉल के लेवल को कम करता है और ब्लड सर्कुलेशन सिस्टम को बेहतर बनाने में मदद करता है।

यहां 5 स्वादिष्ट और नेचुरल स्मूदी की जानकारी दी गयी है जिन्हें आप वेरीकोस वेंस के अपने ट्रीटमेंट में दूसरी दवाओं के साथ शामिल कर सकते हैं।

इसे भी पढ़ें : वेरीकोस वेंस को ठीक करने के लिये दादी माँ का नुस्खा

1. तरबूज, अंगूर और पुदीने की स्मूदी


यह स्वादिष्ट और ताज़ा शेक आपके शरीर के ब्लड सर्कुलेशन को बढ़ावा देने और वेरीकोस वेंस को कम करने का एक शानदार तरीका है जो मूत्रवर्धक और एंटी इन्फ्लेमेटरी तत्वों का एक बड़ा डोज देता है। इसका डाइयुरेटिक असर आपकी किडनी को बेहतर काम करने में मदद करेगा। इस तरह यह आपके दिल के कामकाज को ठीक करता है। इसमें मौजूद एंटीऑक्सिडेंट और फाइबर शरीर को शुद्ध करने में मदद करते हैं, उन जहरीले पदार्थों को खत्म करते हैं जो बीमारियों का कारण बन सकते हैं।

सामग्री

  • तरबूज का 1 टुकड़ा
  • ½ कप हरे अंगूर (75 ग्राम)
  • 1 कप पानी (250 मिली)
  • 4 पुदीने के पत्ते

तैयार कैसे करें

  • खरबूजे को क्यूब्स में काट लें और फिर हरे अंगूर और पानी के साथ ब्लेंडर में रखें।
  • तब तक ब्लेंड करें जब तक आपको एक चिकना मिश्रण न मिल जाए।
  • एक बार ब्लेंड होने पर एक कप में डालें और पुदीने की पत्तियों के साथ गार्निश करें।

कैसे सेवन करें

  • हफ़्ते में कम से कम 3 बार इसे पीना चाहिए।

2. हॉर्स रैडिश और गाजर की स्मूदी

इस हॉर्स रैडिश और गाजर की स्मूदी से मिलने वाला अद्भुत एंटीऑक्सिडेंट बूस्ट आपके खून को शुद्ध करने और विषाक्त अपशिष्ट को खत्म करने में मदद करता है।

इस वजह से इस स्वादिष्ट स्मूदी के एंटी इन्फ्लेमेटरी गुण वेरीकोस वेंस के ट्रीटमेंट की सुविधा देते हैं और पैरों में दर्द और भारीपन की संवेदना को कम करने में मदद करते हैं।

सामग्री

  • 2 हॉर्स रैडिश
  • 3 गाजर
  • 1 कप पानी (250 मिली)

तैयार कैसे करें

  • सब्जियों को अच्छी तरह से धोयें और यह सुनिश्चित करें कि कोई गंदगी न रह जाए।
  • फिर उन्हें टुकड़ों में काट लें और उन्हें अपने ब्लेंडर में रखें।
  • पानी डालें और कुछ मिनट के लिए सब कुछ प्रोसेस करें जब तक कि यह अच्छी तरह से मिश्रित न हो।

कैसे सेवन करें

  • एक बार जब यह मिश्रित हो जाए तो जागने के बाद सप्ताह में 2 या 3 बार खाली पेट पियें।

3. स्ट्राबेरी और ग्रेप स्मूदी

अंगूर में मौजूद विटामिन और मिनरल और स्ट्रॉबेरी में मिलने वाले एंटीऑक्सिडेंट को मिलाकर आपको एक ऐसा ड्रिंक मिलता है जो स्वादिष्ट तो है ही – आपके सर्कुलेशन को बेहतर बनाने और आपके शरीर को डिटॉक्सिफाई करने में मदद करता है।

इस स्मूदी के तत्व खून से जहरीले तत्वों को खत्म करने में मदद करते हैं। इसका नाम है मोरेसो, यह धमनियों में कोलेस्ट्रॉल प्लाक के गठन को भी रोकता है। इससे अच्छा क्या हो सकता है?

सामग्री

  • 8 स्ट्रॉबेरी
  • 10 अंगूर
  • 1 कप पानी (250 मिली)
  • 1 बड़ा चम्मच शहद (25 ग्राम)

कैसे तैयार करें

  • सबसे पहले आपको स्ट्रॉबेरी और अंगूर को अच्छी तरह से धोना चाहिए।
  • अब अंगूर से बीज निकालें। हालांकि अंगूर के बीज बहुत फायदेमंद होते हैं, स्मूदी में वे एक अलग टेक्सचर और एक खट्टा स्वाद आता है।
  • उन्हें एक कप पानी और शहद के एक चम्मच के साथ अपने ब्लेंडर में रखें।
  • अंत में, एक अच्छा मिश्रण पाने तक अच्छी तरह से प्रोसेस करें – चाहे तों बर्फ डालने से भी संकोच न करें!
  • बीजों का उपयोग करने के लिए उन्हें सुखाएं और कुचल दें। भले ही आप उन्हें नहीं पियेंगे पर कुचलने के बाद आप एक बहुत असरदार अंगूर बीज स्क्रब हासिल कर सकते हैं जो आपकी त्वचा को फिर से जीवंत बनाएगा।

कैसे सेवन करें

  • इस शेक को सुबह-शाम 2 हफ़्ते तक लगातार पियें।
  • इसके बाद इस हैबिट को फिर से शुरू करने से पहले एक हफ़्ते का ब्रेक दें।

इसे भी पढ़ें : वेरीकोस वेंस (Varicose Veins) के लिए 5 वैकल्पिक ट्रीटमेंट

4. सेब, अलसी और लहसुन की स्मूदी

एंटीऑक्सिडेंट, डाइटरी फाइबर और फैटी एसिड से भरपूर यह होममेड शेक एक नेचुरल ट्रीटमेंट है  जो खून को साफ़ करने और शरीर को डिटॉक्सिफाई करने के लिए किसी भी व्यक्ति के लिए एक महान उपयोगी है।

उच्च एंटीऑक्सिडेंट सामग्री और कोलेस्ट्रॉल में कमी लाने की क्षमता के कारण लहसुन का सर्कुलेशन पर लाभकारी असर होने की जानकारी मिली है।

यह स्मूदी आपकी कार्डियोवैस्कुलर स्वास्थ्य के लिए सहायक विटामिन, मिनरल और एमिनो एसिड देता है। इस कारण एक बार शरीर द्वारा सोख लिए जाने के बाद ये सामग्रियां सूजन को कम करने में मदद करती हैं और साथ ही वेरीकोस वेंस को कम करते हैं।

सामग्री

  • 1 सेब
  • ½ लहसुन
  • 1 चम्मच अलसी (10 ग्राम)
  • 1 चम्मच ब्रूअर्स यीस्ट (5 ग्राम)
  • ½ कप पानी (125 मिली)

तैयार कैसे करें

  • सबसे पहले सेब को टुकड़ों में काट लें।
  • फिर इसे दूसरी सामग्रियों के साथ ब्लेंडर में प्रोसेस करें।
  • एक बार अच्छी तरह से मिश्रित होने के बाद तुरंत सर्व करें।

कैसे सेवन करें

  • वेरीकोस वेंस को कम करने के लिए इस शेक को हफ़्ते में 3 बार खाली पेट पिएं।

5. नाशपाती और ऑरेंज स्मूदी


ताज़ा, स्वादिष्ट और पाचन में सहायक होने के साथ-साथ इस नाशपाती और नारंगी स्मूदी में कुछ अहम डिटॉक्सिफाई करने वाले एंटी इन्फ्लेमेटरी गुण होते हैं। इसमें बड़ी ऊँची मात्रा में विटामिन और मिनरल होने के कारण यह खून के प्रवाह को बेहतर बनाने में मदद करेगा।

नतीजतन यह आपका कोलेस्ट्रॉल लेवल कम करने और आपके दिल के कामकाज को बेहतर बनाने का एक शानदार नुस्खा है।

सामग्री

  • 2 नाशपाती
  • 5 संतरे का रस
  • एक चम्मच ग्रेटेड अदरक (2 ग्राम)

तैयार कैसे करें

  • नाशपाती को टुकड़ों में काट लें।
  • फिर उन्हें 5 संतरे और ग्रेटेड अदरक के जूस के साथ ब्लेंडर में डाल दें।
  • एक बार मिल जाने पर बिना छाने सीधे सर्व करें।

कैसे करें सेवन

  • आपको इस स्मूदी को हफ्ते में 3 या 4 बार खाली पेट पीना चाहिए।

वेरीकोस वेंस को कम करने के दूसरे तरीके

  • सक्रिय हों! एक स्वस्थ कार्डियोवैस्कुलर और सर्कुलेशन सिस्टम का मतलब वेरीकोस वेंस से प्रभावित होने की संभावना में कमी है। अपने शरीर को मशक्कत कराएं!
  • वजन ठीक रखें। यह आपके दिल को बेहतर काम करने में मदद करेगा।
  • अपने पैरों को ऊपर उठाएं। यह रक्त प्रवाह में मदद करेगा। काम के बाद हर रात इसे करने की कोशिश करें!
  • Evans, C. J., Fowkes, F. G. R., Ruckley, C. V., & Lee, A. J. (1999). Prevalence of varicose veins and chronic venous insufficiency in men and women in the general population: Edinburgh Vein Study. Journal of Epidemiology & Community Health53(3), 149-153.
  • Callam, M. J. (1994). Epidemiology of varicose veins. British journal of surgery81(2), 167-173.
  • Balasenthil, S., Arivazhagan, S., & Nagini, S. (2000). Garlic enhances circulatory antioxidants during 7, 12-dimethylbenz [a] anthracene–induced hamster buccal pouch carcinogenesis. Journal of ethnopharmacology72(3), 429-433.
  • Jain, A. K., Vargas, R., Gotzkowsky, S., & McMahon, F. G. (1993). Can garlic reduce levels of serum lipids? A controlled clinical study. The American journal of medicine94(6), 632-635.
  • Ashraf, R., Aamir, K., Shaikh, A. R., & Ahmed, T. (2005). Effects of garlic on dyslipidemia in patients with type 2 diabetes mellitus. J Ayub Med Coll Abbottabad17(3), 60-64.