मेनिंजेस के बारे में सबकुछ जानें

मेनिंजेस एक फिल्टर के रूप में काम करते हैं, झटकों और शॉक से बचाने वाले गद्दों की तरह। इसके अलावा वे केमिकल एजेंट से भी हिफाजत करते हैं। इस आर्टिकल में हम उनके बारे में बात करेंगे!
मेनिंजेस के बारे में सबकुछ जानें

आखिरी अपडेट: 18 सितम्बर, 2020

मेनिंजेस हमारे सेन्ट्रल नर्वस सिस्टम का एक मूलभूत हिस्सा हैं। वे झिल्ली का एक सेट हैं जो रीढ़ की हड्डी और मस्तिष्क दोनों को कवर करते हैं। मेनिंजेस (meninges) का मुख्य कार्य इन अंगों को किसी भी हमले से बचाना है।

“मेनिंज” शब्द ग्रीक शब्द “meninx” से आया है जिसका अर्थ है झिल्ली। सेन्ट्रल नर्वस सिस्टम शरीर के उन अंगों में से एक है जिसे सबसे ज्यादा सुरक्षा चाहिए क्योंकि इसकी बदौलत ही शरीर अपने सभी काम कर सकता है, जैसे कि श्वास लेना आदि।

मेनिंज में ड्यूरा मेटर, अरनॉइड मैटर और पिया मैटर शामिल हैं। इस लेख में हम यह बताना चाहते हैं कि उनका वितरण कैसे होता है, साथ ही साथ उनकी मुख्य विशेषताएं और कार्य के बारे में भी। इसके अलावा हम मेनिन्जाइटिस के बारे में बात करेंगे और यह कि यह इतनी खतरनाक स्थिति क्यों है।

मेनिंजेस क्या हैं?

जैसा कि हमने ऊपर बताया है, सेन्ट्रल नर्वस सिस्टम को हमारी रक्षा के लिए विभिन्न तंत्रों की जरूरत होती है। सबसे पहले यह हड्डियों की संरचनाओं द्वारा सुरक्षित है, जैसे कि स्कल और रीढ़ कीं हड्डी।

लेकिन इसमें झिल्लियों की एक श्रृंखला होती है जो केमिकल हमलों या संक्रमणों से बचाती है। वे तीन झिल्ली या परतें हैं जो एक दूसरे से खाली स्पेस द्वारा अलग की गयी होती हैं जिसमें महत्वपूर्ण संरचनाएं भी होती हैं।

यदि आप सबसे बाहरी भाग से शुरू करें तो स्कल  से सटा हुआ ड्यूरा मैटर मिलता है। यह हड्डी से जुड़ा होता है और एक प्रकार का विभाजन करता है जो क्रेनियल कैविटी को कई भागों में विभाजित करता है। इस तरह यह मस्तिष्क के विभिन्न हिस्सों को जगह देता है। इसके अलावा इसमें वीनस साइनस शामिल हैं।

अगला मेनिन्जेस आर्चेनॉइड मैटर (arachnoid mater) है, जो दोनों के बीच स्थित है। यह मकड़ी के जाल जैसा दिखता है। यह सबसे नाजुक परत है। नीचे सबआर्चेनॉइड स्पेस (subarachnoid space) है, जिसमें सेरिब्रोस्पाइनल द्रव होता है।

पिया मेटर मेनिन्जेस का सबसे भीतरी भाग है, क्योंकि यह मस्तिष्क और रीढ़ की हड्डी के संपर्क में है। यह मस्तिष्क को ढंकता है।


मेनिन्जेस वे झिल्ली हैं जो सेन्ट्रल नर्वस सिस्टम की रक्षा करते हैं।

मेनिजेस के बीच खाली स्पेस

हमने पहले से ही सबएरैक्नोइड स्पेस का जिक्र किया है, जो कि आर्चेनॉइड मैटर और पिया मैटर के बीच एक है। सेरिब्रोस्पाइनल फ्लूइड इस क्षेत्र के भीतर है। यह द्रव सेन्ट्रल नर्वस सिस्टम के लिए कुशन का काम करता है और झटके और दूसरे खतरों से खोपड़ी को बचाता है।

ड्यूरा मेटर और आर्चेनॉइड मैटर के बीच हम सबड्यूरल स्पेस को पाते हैं। ड्यूरा मैटर में हम प्रसिद्ध एपिड्यूरल स्पेस को पाते हैं। यह स्थान इसलिए भी जाना जाता है कि कुछ एनेस्थेटिक दवाओं को इसमें इंजेक्ट किया जाता है, उदाहरण के लिए गर्भावस्था के दौरान। यह स्थान स्पाइनल कोर्ड में मौजूद है मस्तिष्क में नहीं।

आप इस लेख को पसंद कर सकते हैं: मस्तिष्क के विभिन्न हिस्से

मेनिंजेस के कार्य

जैसा कि हम सभी जानते हैं, मेनिन्जेस का मुख्य काम सेन्ट्रल नर्वस सिस्टम को आघात से बचाना है। दूसरे शब्दों में वे प्रहार को रोकने के लिए जिम्मेदार हैं। हालांकि वे रासायनिक हमलों के लिए एक फिल्टर के रूप में भी काम करते हैं।

इसके अतिरिक्त मेनिन्जेस मस्तिष्क में सेरिब्रोस्पाइनल द्रव के सर्कुलेशन में मदद करते हैं। शारीरिक सुरक्षा के अलावा यह तरल मस्तिष्क में बने वेस्ट को खत्म करने में मदद करता है। यह इंट्राक्रेनियल प्रेशर को संतुलित भी करता है।

इसलिए मेनिंज एक सैप[सपोर्ट और डिफेन्स सिस्टम बनाते हैं। दूसरी ओर वे मस्तिष्क को ऐसे दबाव, तनाव या दर्द में कुछ परिवर्तनों की सूचना देते हैं जो चोट का कारण बन सकते हैं।


मेनिंगेस संभावित आघात के खिलाफ एक सुरक्षा प्रणाली बनाते हैं।

इस लेख में आपकी रुचि हो सकती है: हर्पीस जॉस्टर के लक्षण और निदान के बारे में अहम तथ्य

मेनिन्जाइटिस क्या है?

मेनिनजाइटिस एक बीमारी है जो मेनिन्जेस की तीव्र सूजन से होती है । हालांकि अधिकांश मामले एक वायरल संक्रमण के कारण होते हैं, यह बैक्टीरिया या फंगस के कारण भी हो सकता है। यह किसी कार्सिनोजेनिक प्रोसेस या अन्य कारणों से भी हो सकता है।

मेनिन्जाइटिस के कई मामलों में यह सूजन मस्तिष्क की क्षति का कारण बन सकती है। वास्तव में इसका सामान्य प्रभाव है, जैसे कि बहरापन या अन्य इंद्रियों में बदलाव। यह जानलेवा भी हो सकता है।

आपको याद रखना चाहिए कि मेनिन्जेस सेन्ट्रल नर्वस सिस्टम की बुनियादी सुरक्षात्मक संरचनाएं हैं। इसलिए उनका स्वस्थ रहना बहुत महत्वपूर्ण है।

यह आपकी रुचि हो सकती है ...
अपनी याददाश्त में सुधार लाने के लिए टिप्स
स्वास्थ्य की ओरइसमें पढ़ें स्वास्थ्य की ओर
अपनी याददाश्त में सुधार लाने के लिए टिप्स

टेक्नोलॉजी हमारी बहुत मदद करती है, लेकिन इसने हमारे दिमाग को बहुत आलसी भी बना दिया है। आखिरकार हम अब कुछ याददाश्त में रखने की कोशिश नहीं करते: हम ब...