बिना नुकसान पहुंचाए हेयर स्ट्रैटनिंग की 3 टिप्स

03 दिसम्बर, 2019
हो सकता है, आपको यह बहुत जरूरी नहीं लगता हो लेकिन अच्छी क्वालिटी वाला हेयर स्ट्रेटनर बहुत जरूरी होता है क्योंकि यह कम नुकसानदेह होता है। हेयर स्ट्रैटनिंग से पहले बालों की सुरक्षा करना भी अहम है।
 

हेयर स्ट्रैटनिंग की बात करने से पहले एक बार याद दिला दें कि आपका कैसा इम्प्रेशन पडेगा इसमें एस्थेटिक्स की बड़ी भूमिका है। दरसल आज की दुनिया में यह सामाजिक संबंधों में एक बड़ी भूमिका भी निभाता है। इस मामले में आपके बाल एक जरूरी पहलू हैं।

एक व्यक्ति के रंग रूप में कई अलग-अलग पहलू शामिल होते हैं, उनमें बाल सबसे ज्यादा ध्यान देने योग्य होते हैं। इसलिए इसकी केयर करना जरूरी है।

बालों और ब्यूटी की बात आने पर बहुत तरह के उपकरण और गैजेट्स हैं। हालांकि, बालों को स्वस्थ रखने में सभी बराबर अच्छे नहीं हैं।

ग्रेट पैराडॉक्स

अच्छा दिखने के लिए महिलायें लंबे समय से हेयर स्ट्रैटनर  का उपयोग करती आ रही हैं हालांकि कभी-कभी यह परवाह किए बिना कि इसे उनकी हेयर हेल्थ कितनी प्रभावित हो रही है। तथ्य यही है कि दिखावे को सेहत से ज्यादा प्रायोरिटी दी जाती है।

हम ऐसा क्यों करते हैं?

हेयर स्ट्रैटनिंग डिवाइस

पर्सनल केयर और ब्यूटी के दायरे में सबसे व्यापक रूप से उपयोग किए जाने वाली डिवाइस में से एक है हेयर स्ट्रैटनर, और कई महिलाएं इन्हें बहुत पसंद करती हैं।

तो ऊपर हमने जिस पैराडॉक्स का जिक्र किया है उससे क्या लेना-देना है?

दरसल जहां वे आपको शानदार लुक दे सकते हैं, वहीं हेयर स्ट्रेटनर आपके बालों और स्कैल्प के स्ट्रैंड्स के लिए बहुत नुकसानदेह भी हो सकते हैं।

दुर्भाग्य से बहुत से लोग बस अच्छे दिखना चाहते हैं और उन्हें कोई फर्क नहीं पड़ता कि वे अपने बालों को नुकसान पहुंचा रहे हैं।

इस पैराडॉक्स से परे  इसका इस्तेमाल करने और न करने वालों के बीच एक विभाजन भी है। सबसे बुरी बात यह है कि हर ग्रुप के अपने तर्क हैं जो मामलो को ज्यादा जटिल बना देते हैं।

यह डिवाइस आपके बालों हमला करता है, तो हम इसके इस्तेमाल को कैसे उचित ठहरा सकते हैं? हमें इसका उपयोग करने के लिए कुछ टिप्स की खोज करनी होगी। अगर आप इस बारे में नहीं जानती हैं हमसे जुड़ें।

 

इसे भी पढ़ें : इन 5 प्राकृतिक उपचारों से अपने बालों को हाइड्रेट करें

बिना नुकसान पहुंचाए हेयर स्ट्रैटनिंग की टिप्स

हर चीज की अति शरीर के लिए हमेशा जोखिम भरी होती है, और ब्यूटी इक्विपमेंट और उपकरण कोई अपवाद नहीं हैं। इस तरह हम हेयर स्ट्रेटनर पर पहुंचते हैं।

अगर आप हेयर स्ट्रैटनिंग करना पसंद करती हैं, तो इन टिप्स से बड़ी मदद होगी।

1. अपने स्कैल्प की हिफाजत करें


नंबर एक टिप स्कैल्प की हिफाजत है, जो पूरे शरीर में त्वचा के सबसे नाजुक क्षेत्रों में से एक है।

स्ट्रेटनर की हाई हीट को इसकी कोमलता को जोड़ें तो आप इसके जलने, रूखा होने आसानी से टूटने की संभावना बढ़ा सकती हैं।

  • स्कैल्प के लिए विशेष प्रोडक्ट का उपयोग करने का प्रयास करें। कई विकल्प हैं।
  • चाहें तो इस मामले में किसी जानकार इंसान की सलाह लें।

2. बालों को खुला रखें

क्या कोई ऐसा है जिसे यह महसूस नहीं हुआ है कि हेयर स्ट्रैटनिंग के समय उसने बालों को काट दिया है? यदि आपके साथ ऐसा हो तो आप जानती हैं कि हम किस बारे में बात कर रहे हैं।

ऐसा तब होता है जब आप बालों को जल्दी से सीधा करती हैं जिससे बाल बहुत उलझ जाते हैं।

यह दर्दनाक है लेकिन इससे कुछ नुकसान भी हो सकता है।

  • हमारी सलाह है, बालों को अच्छी तरह से सीधा करने से पहले ब्रश करें ताकि गांठों को अलग किया जा सके।

यह टिप सभी प्रकार के बालों के लिए हैऔर उलझे हुए बालों के लिए विशेष जरूरी है।

इसे भी पढ़ें : 8 हेल्थ प्रॉब्लम जो गीले बालों के साथ सोने से आपको हो सकते हैं

3. क्वालिटी हेयर स्ट्रेटनर लाएं

 

महंगे या ब्रांड-वाले प्रोडक्ट के लिए रुझान के लिए कई लोगों की आलोचना की जाती है।

लेकिन जब ब्यूटी डिवाइस की बात आती है, तो यह एक पुराना रवैया है, क्योंकि गुणवत्ता सबसे पहले।

एक स्पष्ट उदाहरण हेयर स्ट्रेटनर है। कई मॉडल की डिवाइस उपलब्ध हैं। उनकी सुंदरता पर न जाएँ बल्कि उनकी खासियत के आधार पर उन्हें चुनें।

  • सभी स्ट्रेटनर हीट को रेगुलेट करने की सहूलियत नहीं देते हैं, इसलिए जब आप स्टोर पर होते हैं, तो यह पहला पॉइंट है जिस पर आपको सोचना चाहिए। यह सबसे अहम है।
  • अगर आप घर पर हेयर स्ट्रैटनिंग नहीं करती हैं और इसके बजाय इसे सैलून में करवाती हैं, तो हम सलाह देंगे कि पहले जान लें कि वे कैसा हेयर हेयर स्ट्रैटनर इस्तेमाल करते हैं।

यह न भूलें की बालों का स्वास्थ्य पहले आता है।

हमें उम्मीद है कि नीचे दिए गए उपायों पर अधिक जानकारी के लिए आपको हमारा लेख पसंद आया होगा!

  • Zhou Y, Rigoletto R, Koelmel D, et al. The effect of various cosmetic pretreatments on protecting hair from thermal damage by hot flat ironing. J Cosmet Sci. 2011;62(2):265-282.