अतिश्रम के शिकार लीवर के लक्षण

अतिश्रम के शिकार लीवर की पहचान मुश्किल नहीं है। ओवरवर्क की स्थिति में यह शरीर को ऐसे संकेत भेजता है जिनके जरिये इसकी हालत का पता लगाया जा सकता है। इससे पहले कि बहुत देर हो जाए इन लक्षणों पर ध्यान दें।
अतिश्रम के शिकार लीवर के लक्षण

आखिरी अपडेट: 30 मई, 2018

अतिश्रम के शिकार लीवर के लक्षणों के बार में बात करने से पहले बता दें कि आपने लोगों को अक्सर लीवर के बारे में बात करते अक्सर सुना होगा। क्योंकि सीधे या परोक्ष रूप से इस अहम अंग से बहुत सी स्वास्थ्य सम्बधी समस्याएं जुड़ी हुई हैं

ऐसा क्यों है? क्योंकि लीवर यानी यकृत अक्सर कम पोषण, प्रदूषण, तनाव, नकारात्मक भावनाओं आदि का शिकार होता है।

इस लेख में हम आपको आसानी से पहचान योग्य संकेतों और लक्षणों के जरिये इस बात का पता लगाने में मदद करेंगे कि कहीं आपका लीवर अतिश्रम के दबाव में तो नहीं है। ध्यान रहे, अतिश्रम यानी ओवरवर्क लीवर के लिए घातक हो सकता है।

अतिश्रम के शिकार लीवर से पूरा शरीर प्रभावित होता है

अतिश्रम के शिकार लीवर

लीवर बहुत महत्वपूर्ण अंग है जो पूरे शरीर के रक्त संचार और जहरीले पदार्थों को फिल्टर करने की प्रक्रिया से जुड़ा हुआ है।

यदि यह ठीक से काम नहीं कर रहा है, तो आपका शरीर इसका असर कई अलग-अलग तरीकों से महसूस कर सकता है।

इस लेख में हम व्याख्या करेंगे, कि किस तरह  हम अपने चेहरे, मुंह, त्वचा और बालों पर उभरते लक्षणों की तलाश करके अपने लीवर के कार्य को जांच कर सकते हैं।

अतिश्रम के शिकार लीवर के कारण भौहों के बीच झुर्रियाँ

लम्बे समय से झुर्रियों को उम्र बढ़ने की प्रक्रिया से जुड़ा माना जाता है और यह जेनेटिक्स इन्हें जल्दी या बाद में प्रकट होने पर मजबूर कर देगी।

हालांकि झुर्रियां यह बता सकती हैं कि आपका शरीर कैसे कार्य काम कर रहा है और वास्तव में रोगों को रोकने में उपयोगी हो सकती हैं।

भौहों के बीच उभरने वाली खड़ी झुर्रियों के साथ यही बात है। इसका मतलब यह हो सकता है कि आप बहुत ज्यादा श्रम करते लीवर से पीड़ित हैं। वे जितनी गहरी होंगी, अतिश्रम के शिकार लीवर की आपकी समस्या उतनी ही गंभीर होगी।

अतिश्रम के शिकार लीवर के लक्षण

भूरे या हरे धब्बे

चेहरे पर गहरे भूरे या हरे रंग के धब्बे सिर्फ कॉस्मेटिक समस्या नहीं हैं और न ही ये आयु या सूरज के एक्सपोजर की परिणाम हैं।

ये निशान, खासकर यदि वे दाईं ओर या कनपट्टी के पास हैं, तो इससे यह संकेत मिलता है कि कि आपका लीवर क्षमता से ज्यादा काम कर रहा है है, हालांकि ये इस बात के संकेत भी हो सकते हैं कि गॉल ब्लैडर, पैनक्रियाज या स्प्लीन किसी समस्या के शिकार हैं।

यदि आपके चेहरे की रंगत पीली है, तो इसका मतलब यह हो सकता है कि अतिश्रम के शिकार लीवर ने आपके चेहरे पर दस्तक देना शुरू कर दिया है।

माथे पर तैलीय त्वचा

त्वचा के प्रकार भी वे कारक हैं जिन्हें हम आम तौर पर जेनेटिक्स या उम्र से जोड़कर देखते हैं। हालांकि, शुष्क या तैलीय त्वचा अंदरूनी असंतुलन की संकेत भी हो सकती है।

यदि माथे की त्वचा तैलीय है, तो आप लीवर फंशन में असंतुलन के शिकार हो सकते हैं। कुछ मामलों में यह अत्यधिक पसीना आने से भी जुड़ा हुआ है।

स्थानीय गंजापन और ग्रे हेयर

अतिश्रम के शिकार लीवर को पहचानें

वसंत या शरद ऋतु में सामान्य से थोड़ा ज्यादा बालों को गिरते देखना कोई असामान्य बात नहीं है। हालांकि, कुछ लोग लंबे समय तक अकारण बालों के झड़ने की समस्या से ग्रस्त हो सकते हैं। इसका इलाज कराने के लिए, यह तय करना महत्वपूर्ण है होता है कि किस हिस्से में बाल गिर रहे हैं।

यदि गंजापन सिर के बीचोंबीच है या यदि आपके बाल धूसर होने शुरू हो जाते हैं, तो इसका मतलब यह भी हो सकता है कि लीवर सहित आपके अंग ठीक ढंग से काम नहीं कर रहे हैं। यह पुरूषों और महिलाओं दोनों पर लागू होता है।

असमय बाल सफ़ेद होना गॉल ब्लैडर की समस्या की ओर भी इशारा करता है।

अतिश्रम के शिकार लीवर से दृष्टि दोष 

पारंपरिक चीनी चिकित्सा में लीवर सीधे आंखों में रक्त प्रवाह को प्रभावित करता है। इसलिए, यदि आप दृष्टि दोष की समस्याओं का सामना कर रहे हैं, तो यह एक बहुत मेहनत करते लीवर का लक्षण भी हो सकता है।

जब यकृत ठीक से काम नहीं कर रहा हो, तो आँखें अपनी प्राकृतिक चमक खो सकती हैं, प्यूपिल श्वेत पड़ सकती हैं, आंखों के चारों ओर के क्षेत्र में पीलापन आ सकता है।

मसूड़ों और गले की सूजन

बहुत से लोगों के मसूड़ों में सूजन रहती है और जब वे ब्रश करते हैं तो आसानी से खून बहने लगता है। यह समस्या भी लीवर से जुड़ी हुई है और गले की सूजन भी। हो सकता है आप अतिश्रम के शिकार लीवर से पीड़ित हैं।

हम इन समस्याओं के इलाज के लिए कुछ ख़ास किस्म के टूथपेस्ट्स और माउथवाश का उपयोग कर सकते हैं, लेकिन अगर हमने लीवर के कार्यशीलता में सुधार नहीं किया तो हम मसूड़ों और गले की संवेदनशीलता और सूजन को ठीक नहीं कर पायेंगे।

अतिश्रम के शिकार लीवर के लक्षण: मसूड़े और गले

आपका मल कैसा है?

हम जो मल त्याग करते हैं वह भी हमारे शरीर के स्वास्थ्य का संकेत हो सकती है जिसकी ओर पर्याप्त ध्यान नहीं दिया जाता है। यहाँ नीचे कुछ लक्षण हैं जिनके जरिये आपका मल आपके लीवर फंक्शन के बारे में बताने की कोशिश कर रहा है:

  • तेज बदबू और चिपचिपा मल खराब पाचन और खाने के फर्मेंटेशन का परिणाम है।
  • कठोर, सूखी गोली की तरह आने वाला मल कब्ज की आम लक्षण है लेकिन यह कमजोर लीवर फंशन से भी जुड़ा हो सकता है।
  • दस्त।
  • फीके या मिट्टी के रंग का मल।
  • तैरना वाला मल फैट के कारण होता है जो बताता है कि फैट डाइजेशन ठीक से नहीं हो पा रहा है।

तो अब आप शायद जान गए होंगे, आपका लीवर कैसा है?