वजन घटाने वाला अदरक का पानी कैसे बनाएं?

29 जून, 2018
आपके शरीर में शुगर लेवल को ठीक करने और पाचन प्रक्रिया को दुरुस्त रखने के साथ-साथ अदरक से बना यह पेय आपका वजन कम करने में भी बेहद कारगर है।
अदरक का पानी शरीर का वजन कम करके आपको दुबला-छरहरा रखने में बहुत मदद करता है। वजन घटाने वाला अदरक का पानी दूसरे कई कारणों से भी बहुत उपयोगी है।
कई लोगों के लिए वजन घटाना बहुत गंभीर समस्या होती है। संतुलित आहार और रेगुलर एक्सरसाइज की एक सख्त रेजीम को अपनाकर भी लोग अपनी इच्छा के मुताबिक दुबले नहीं हो पाते हैं।
ऐसा शरीर में पानी जमा होने के कारण और मेटाबोलिज्म जैसी शारीरिक प्रक्रियाओं के सुस्त होने के कारण हो सकता है। 
ऐसी परिस्तिथि में ज़्यादा से ज़्यादा पानी पीना चाहिए। पाचन प्रक्रिया में सुधार लाने के साथ-साथ, पानी हमारी किडनी को भी सक्रिय रखता है।
किडनी के ठीक ढंग से काम करने पर शरीर में जमा अतिरिक्त पानी आसानी से निकल जाता है। साथ ही साथ शरीर से विषैले पदार्थ यानी टॉक्सिन भी निकल जाते हैं। इससे पेट और कमर के निचले हिस्से में वजन नहीं बढ़ता है।
पानी से हमारा पाचन तंत्र तो दुरुस्त रहता ही है, मेटाबोलिज्म में भी तेज़ी आती है।
ऐसे कई विकल्प उपलब्ध हैं जिन्हें पानी में मिलाकर हम पानी के प्राकृतिक गुणों में इज़ाफा कर सकते हैं। लेकिन सबसे अधिक फ़ायदा अदरक को पानी में मिलकर पीने से मिलता है।  
क्या आप वजन घटाने वाला अदरक का पानी कैसे बनाएं, यह जानना चाहेंगे? क्या इसके अन्य गुणों के बारे में भी और अधिक जानना चाहेंगे? हमारे साथ बने रहिए और आगे पढ़ते रहिए।

वजन घटाने में अदरक के फायदे

वजन घटाने वाला अदरक

आश्चर्यजनक ढंग से शरीर में शुगर लेवल को ठीक रखती है

अदरक से शरीर में चीनी की सही मात्रा बनी रहती है। इससे आपका शरीर सुचारू रूप से काम करता है। इस बात से ख़ास फ़र्क नहीं पड़ता है कि आपने कितनी अदरक का सेवन किया है; इसके सेवन से आपके शरीर में ग्लूकोस का सही स्तर बना रहता है।

पर हाँ, बहुत ज़्यादा या कम मात्रा में सेवन से भी बचें!

चीनी का सही मात्रा में सेवन वजन नियंत्रित रखने की मुख्य रणनीतियों में से एक है। शरीर में ज्यादा चीनी का जमा होना मेटाबोलिज्म की प्रक्रिया को सुस्त कर देता है।

नियमित रूप से वजन घटाने वाला अदरक का पानी पीकर इस समस्या से छुटकारा मिलता है। इसके साथ-साथ, अदरक मधुमेह यानी डायबिटीज होने के खतरे को भी दूर करती है।

अदरक का पानी पीने से पाचनशक्ति में तेज़ी आती है

अदरक के सेवन से शरीर में गैस्ट्रिक एसिड बनते हैं। गैस्ट्रिक एसिड की सहायता से खाए जाने वाले भोजन से हमें पोषण मिलता है और शरीर से विषैले पदार्थ निकाल जाते हैं।
अदरक में भरपूर मात्रा में फाइबर भी पाया जाता है। फाइबर से खाना आसानी से पचता है।
हमारे लिए यह जानना बहुत ज़रूरी है कि किस प्रकार इस पेय के सेवन से हम अपना वजन नियंत्रित रख सकते हैं।

अदरक आपके शरीर की गर्मी को बढ़ाती है

अगर हम कैलोरी की बात करें, तो क्या आपको ऐसा नहीं लगता है कि हमें शरीर में जमा होने वाली चर्बी को कम करने के बारे में सोचना चाहिए?

आपको अपने शरीर के तापमान को इस प्रकार बढ़ाए रखना होगा जिससे शरीर में पानी न जमा हो सके।

हम आपको सलाह देंगे कि आप वजन घटाने वाला अदरक का पानी रात को ही पियें। रात के समय आपका शरीर प्राकृतिक ढंग से अपना तापमान बढ़ाता है। इसके चलते शरीर में सेरोटोनिन लेवल बढ़ता है। इससे आपको बेहतर नींद आती है और भरपूर आराम मिल पाता है।

वजन घटाने वाला अदरक का पानी कैसे बनाएँ?

वजन घटाने वाला अदरक का पानी कैसे बनाएं

सामग्री

  • 6 कप पानी (1.5 लीटर)
  • 5 चम्मच घिसी हुई अदरक (50 ग्राम)
  • 2 नींबू का रस

बनाने की विधि

  • पानी गरम कर लें। जब पानी में उबाल आ जाए तो उसमें अदरक मिला दें।
  • इसे एक से दो मिनट के लिए पकने दें और फिर ओवन से हटा लें।
  • इसे 10 मिनट तक ठंडा होने के लिए छोड़ दें।
  • इसके बाद इस मिश्रण को छान लें, इसमें नींबू का रस मिलाएं और पी लें।
  • इस मिश्रण के सबसे अच्छे परिणाम इसका खाली पेट सेवन करने से  मिलते हैं।

मनचाहा परिणाम पाने के लिए आपको इसका नियमित सेवन करना होगा। लेकिन यह याद रखना ज़रूरी है कि इसके फायदे मिलने में कुछ समय लग सकता है। आपको धैर्य बनाए रखना होगा।

हम आपको सलाह देंगे, इस पेय को सुबह खाली पेट पी लें। लेकिन, यदि दिन के किसी दूसरे समय इसका सेवन करना चाहते हैं, तो कोई पाबंदी नहीं है। इसे एक थर्मस में भरकर भी रख सकते हैं और पूरे दिन इसका सेवन कर सकते हैं।
इस पेय को अपने रोज़ के खान-पान में शामिल करने से कतराएँ नहीं। अदरक का पेय आपके शरीर की अन्य प्रक्रियाओं को भी संतुलित करता है। 
तो इस पेय का नियमित सेवन करके क्यों न आप हमसे अपने अनुभव को सांझा करें? 
  • Medicinals. (2012). Propiedades del Jengibre. Http://Www.Botanical-Online.Com/Medicinalsgengibre.Htm.
  • Cañigueral, S. (2016). Jengibre. OFFARM.
  • Salgado, F. (2011). El jengibre (Zingiber officinale). Revista Internacional de Acupuntura. https://doi.org/10.1016/S1887-8369(11)70041-2