आपके मोटापे के 5 कारण जिनका आपकी डाइट से कोई सम्बन्ध नहीं है

मार्च 23, 2019
अगर आप बैलेंस डाइट खा रहे हैं और फिर भी मोटापे की समस्या बनी हुई है, तो किसी एक्सपर्ट से जांच करवाएं और संभावित समस्याओं का पता लगाएं।

लोग अक्सर गलत आहार के कारण ज्यादा वजन बढ़ा लेते हैं। हालांकि इन दोनों का निश्चित रूप से एक हद तक सम्बन्ध है, लेकिन डाइट हमेशा ही इसकी अकेली वजह नहीं होती है।

यहां हम आपको मोटापे की समस्या के कई संभावित कारणों के बारे में बताएंगे जिनका आपके भोजन से कोई लेना-देना नहीं है

1. आपका लिवर

5 कारण आप ज्यादा वजन वाले हो सकते हैं : लिवर

आपके मोटापे की समस्याएं यकृत यानी लिवर की समस्याओं का नतीजा हो सकती हैं। लिवर आपके शरीर में सबसे महत्वपूर्ण अंगों में से एक है और आपकी सेहत के कई पक्षों का दारोमदार इस पर होता है।

समस्या यह है कि अगर इस अंग में परेशानी शुरू हो जाए, तो आपका शरीर आपके शरीर के बीच वाले हुस्से में फैट जमा करना शुरू कर देता है।

लक्षण

  • हाई ब्लड शुगर लेवल
  • हाई ब्लड प्रेशर और कोलेस्ट्रॉल
  • जोड़ों का दर्द
  • एलर्जी
  • त्वचा संबंधी समस्याएं

अगर आप नोटिस करें कि पेट वाले हिस्से में ज्यादा फैट जमा हो रहा है, इसके बावजूद कि आपने अपने आहार में कोई बदलाव नहीं किया है (और आप ठीक ढंग से खाते हैं), तो डॉक्टर से मिलना ही अच्छा होगा। क्योंकि आपको लिवर से जुड़ी कोई समस्या हो सकती है

ओवेरी (ovaries)

महिलाओं के लिए ओवेरीज ज्यादा वजन का एक स्रोत हो सकती हैं।

ऐसा इसलिए है क्योंकि अंडाशय की समस्याओं से हार्मोन असंतुलन हो सकता है। यह खाए जाने वाले कार्बोहाइड्रेट को फैट के रूप में जमा करता है।

ओवेरी के कमजोर कामकाज के लक्षण:

  • बॉडी मास यानी शरीर के द्रव्यमान में वृद्धि, यहां तक ​​कि एक अच्छी डाइट और फिजिकल एक्टिविटी के बावजूद
  • मिठाई और डेयरी उत्पादों के लिए ललक
  • शरीर के निचले हिस्से में वजन बढ़ना
  • ओवेरीज में दर्द

इसे भी देखें: स्वस्थ लिवर के लिये नाश्ते के समय अपनायें 7 लाजवाब उपाय

थायरॉइड की समस्याएं

5 कारण आप ज्यादा वजन वाले हो सकते हैं : थायरॉइड

जैसा कि आप जानती हैं, थायरॉइड की वजह से आपका ज्यादा वजन सीधे आसमान छू सकता है

आपका शरीर थायरॉइड के माध्यम से इसके द्वारा ऊर्जा की खपत की दर को रेगुलेट करता है। यह तय करता है कि आप कितनी कैलोरी का उपयोग करेंगे।

अगर यह ठीक से काम नहीं कर रहा है तो आप ज्यादा वजन वाली हो सकती हैं, भले ही आप ज्यादा नहीं खा रही हों।

लक्षण

  • मांसपेशियों की कमज़ोरी
  • अत्यंत थकावट
  • शरीर का बढ़ा हुआ द्रव्यमान
  • बाल झड़ना
  • धीमी हृदय गति
  • डिप्रेशन

किसी एंडोक्राइनोलॉजिस्ट से मिलकर आपकी समस्या का समाधान हो सकता है।

यदि आपको थायरॉइड का शक है, तो यह इसका समाधान हो सकता है। इससे आप थायरॉइड के कामकाज में गड़बड़ी की पहचान कर सकती हैं और इसे बदतर होने से बचाने के लिए ज़रूरी कदम उठा सकती हैं।

एड्रिनल ग्लैंड की गड़बड़ी के कारण भी ज्यादा वजन हो सकता है

आपकी एड्रिनल ग्लैंड के कारण आप ज्यादा वजन का शिकार हो सकती हैं।

आपकी एड्रिनल ग्लैंड “लड़ाई” या “पलायन” की प्रवृत्ति में भाग लेती हैं। दूसरे शब्दों में ये नियंत्रित करती हैं कि आप स्ट्रेस की स्थिति में कैसी  प्रतिक्रिया  देती हैं

जब आप तनावपूर्ण समय से गुजरती हैं, तो आपके शरीर की प्रतिक्रिया हार्मोन असंतुलन के रूप में हो सकती है। इससे आपके शरीर के कई अंगों में समस्या हो सकती है।

ये ग्रंथियां स्ट्रेस हार्मोन (कोर्टिसोल) उत्पन्न करने के लिए जिम्मेदार हैं। हाई कोर्टिसोल लेवल आपके मध्य भाग में वजन बढ़ाने को ट्रिगर करता है।

लक्षण

  • आपके पेट के आसपास फैट का जमना
  • आप अपने चेहरे और गर्दन पर ज्यादा वजन ढोती हैं, बाँहों या पैरों में नहीं
  • हाई ब्लड प्रेशर
  • कमजोर मांसशियाँ
  • मूडी हो जाना
  • रक्त शर्करा का ऊँचा स्तर

इसे भी पढ़ें : 7 टिप्स: बिना किसी तकलीफ़ के पेट का मोटापा कम करने के लिये

यदि आपको लगता है कि एड्रिनल ग्लैंड के कामकाज में गड़बड़ी से आपका वजन बढ़ रहा है, तो अपने डॉक्टर से मिलें और लाइफस्टाइल में बदलाव और योग-व्यायाम के जरिये अपने स्ट्रेस लेवल को कम करने की कोशिश करें

टाइप 2 डायबिटीज

5 कारण आप ज्यादा वजन वाले हो सकते हैं : टाइप 2 डायबिटीज

टाइप 2 डायबिटीज भी आपके वजन बढ़ने का कारण हो सकता है। यह ब्लड में ग्लूकोज की बढ़ी हुई मात्रा वाली बीमारी है।

ब्लड शुगर की यह बढ़ोतरी अक्सर आपकी कोशिकाओं द्वारा इंसुलिन के प्रति ठीक से प्रतिक्रिया न करने (जिसे “इंसुलिन प्रतिरोध” भी कहा जाता है) के कारण होती है

इंसुलिन रेजिस्टेंस वाले लोगों के खून में ग्लूकोज की ऊँची मात्रा होती है, जिससे मोटापा बढ़ता है।

वास्तव में, इस प्रकार के मधुमेह वाले 80% से ज्यादा लोग ज्यादा वजन का शिकार होते हैं

अगर आपको लगे कि यह समस्या आपको है, तो डॉक्टर से तुरंत मिलें।

  • Organización Mundial de la Salud. (2015). OMS | Obesidad y sobrepeso. Nota descriptiva No, 311. https://doi.org/http://www.who.int/mediacentre/factsheets/fs311/es/.

  • Centre, W. media. (2015). Obesidad y Sobrepeso. WHO Web. https://doi.org/http://www.who.int/mediacentre/factsheets/fs311/es/.

  • Haua-Navarro, K. (2016). Sobrepeso y obesidad. Gaceta Medica de Mexico. https://doi.org/10.1098/rsif.2012.0955.