ईमानदार व्यक्ति की 5 आदतें

29 मई, 2018
ऐसे लोग होते हैं, जो आपके खयालों से सहमत नहीं होंगे, और न ही ज़िंदगी को आपकी निगाहों से देखते होंगे, ईमानदार लोग हमेशा बताएँगे, वे क्या सोच रहे हैं और उसी के अनुरूप ही कार्य भी करेंगे|

ईमानदार व्यक्ति बेहतर ज़िन्दगी बिताते हैं, खुश रहते हैं और जब समस्याओं से सामना होता है तो मजबूती से डंटे रहते हैं।

इसका कारण बहुत सहज है: यह ज़रूरी नहीं होता कि ईमानदार व्यक्ति हमेशा ही सबसे ज्यादा बुद्धिमान हों, न ही उन्हें हमेशा सभी चीज़ों का ज्ञान होता है। ये ऐसे लोग होते हैं, जिनकी कथनी और करनी में ठोस सामंजस्य होता है।

भले ही यह जितना भी आसान लगता हो, लेकिन ऐसी मानसिकता को अमल में लाना कतई आसान नहीं है।

मन और कर्म में ईमानदारी के लिए बहुत ही ऊँचे व्यक्तिगत विकास और अपने तथा दूसरों के प्रति नेक, भरोसेमंद और गंभीर होने की आवश्यकता होती है।

चलिए ईमानदार लोगों की आदतों और इस मूल्यवान चारित्रिक गुणों के बारे में थोड़ा और जानते हैं।

1. ईमानदार व्यक्ति कभी सच बोलने से नहीं घबराते

ईमानदारी का कोई मतलब नहीं अगर आपके भीतर किसी भी परिस्थित में, किसी भी हाल में सच की मांग और उसका बचाव करने का साहस नहीं है।

  • सच्चे दिल वाला व्यक्ति कभी भी अन्याय, ब्लैकमेल, अर्द्धसत्य या झूठ का समर्थन नहीं करता।
  • इसके साथ ही दूसरों से भी इस ईमानदारी की उम्मीद की जाती है।

दूसरी तरफ, हम सब यह भी जानते हैं कि ऐसी व्यक्तिगत ईमानदारी का बचाव करना, उसे फैलाना इतना आसान नहीं है।

ऐसे बहुत से मामले होते हैं, जिनमें छिपी हुई बेईमानी का दबदबा होता है, और हमें इस हिपोक्रेसी से लगातार अपना बचाव करना पड़ता है।

2. वे अपनी सीमाओं और गलतियों से अवगत होते हैं

ईमानदार व्यक्ति की 5 आदतें

हमें कोई हक नहीं है कि हम दूसरों से ईमानदारी की मांग करें, जबकि हम खुद उस पर अमल नहीं कर पाते।

  • हमारी रोजमर्रा की ज़िन्दगी में बहुत से ऐसे लोग मिल जायेंगे जो अपने गुणों की बखान करते नहीं थकते। हालांकि यह सब जबानी बातें होती हैं, क्योंकि वे लोग जो उपदेश देते हैं उन पर खुद अमल नहीं करते।
  • यह ईमानदार व्यक्ति पर लागू नहीं होता। ये वे लोग हैं, जिन्होंने अपनी सीमाओं, गलतियों और अपने अँधेरे पक्षों को पहचानने के लिए अपने अंतर्मन में भीतर तक की यात्रा की है।
  • वे जानते हैं कि उन्हें किन क्षेत्रों में सुधार करना है और कौन सी ऐसी कमजोरियां हैं, जिनसे उन्हें ऊपर उठना है।

यह आत्मचेतना एक ऐसी स्थिति उत्पन्न करती है, जहाँ विचार और कर्म में ठोस तादाम्य स्थापित हो जाता है। यहाँ पर छल और कपट का कोई स्थान नहीं, सिर्फ एक नम्र और श्रद्धालु ह्रदय का संतुलन होता है।

3. वे पारदर्शी होते हैं: आप उन्हें देखकर समझ सकते हैं

ईमानदार व्यक्ति

पारदर्शी होने का अर्थ अतिसंवेदनशील होना या दूसरों को अपने सबसे गुप्त रहस्यों तक पहुँचने और उन्हें पढ़ लेने देना नहीं है।

ईमानदारी पारदर्शिता की पर्याय इसलिए होती है क्योंकि वह ईमानदार व्यक्ति जो कुछ भी कहता, करता और दिखाता है, वह उसके अपने व्यक्तित्व के साथ पूरे सामंजस्य लिए होता है।

वहाँ किसी भी प्रकार का पक्षपात या मतभेद नहीं होता है। वहाँ दूसरों के प्रति एक समान व्यवहार, समान आचरण और उन्हें समान देखने की ईमानदारी बरतने पर जोर होता है।

हमेशा पारदर्शी बने रहना इतना भी आसान नहीं है। आखिरकार मनुष्य की एक विशिष्ट आदत है, वह प्रकृति से अस्थिर और निरंतर बदलता रहने वाला है। हमें हमेशा ही हालातों में फिट होने और सभी के द्वारा स्वीकार किये जाने की जरूरत होती है।

ईमानदार लोगों में यह समस्या नहीं होती: यदि उन्हें कोई चीज़ पसंद नहीं आती या कोई चीज़ उनके सिद्धांतों के विपरीत है, तो इसे बिना लाग-लपेट के जाहिर कर देते हैं।

4. जिसमें उनकी आस्था है, उसके लिए वे लड़ते हैं

कई बार सबसे ईमानदार, विनम्र और श्रेष्ठ लोग वे होते हैं, जो अकेलेपन में जीते रहे हैं, और यहाँ तक कि अपने आसपास के लोगों की उपेक्षा का शिकार हुए हैं |

  • इसका कारण बहुत सहज है: अक्सर ईमानदारी जुझारू होती है और सामने वाला व्यक्ति अगर उचित और सम्मानजनक व्यवहार नहीं करता तो ईमानदार व्यक्ति इसे कहने से नहीं झिझकता।
  • दुर्भाग्य से किसी को भी ऐसी क्रूर ईमानदारी पसंद नहीं होती है |

इसका अर्थ यह हुआ कि ईमानदारी अक्सर लोगों को असहनीय बना देती है। वे अपेक्षाकृत दिखावटी और दब्बू किस्म के लोगों को पसंद करते हैं, क्योंकि उन्हें संभालना आसान होता है |

5. ईमानदार व्यक्ति प्रेरणा देते हैं और मिसाल बनकर नेतृत्व भी

ईमानदार व्यक्ति नेतृत्व

ईमानदार लोग निरंतर संजीदगी भरे चलते हैं, और उनके मूल्यों और कार्यों के बीच शानदार संतुलन होता है। इसलिए वे उन लोगों को प्रेरणा देते हैं, जो वास्तव में इन बातों की कद्र करते हैं।

  • शायद आप उनकी खरी बातों में आक्रामकता महसूस करें। लेकिन अच्छाई और खरेपन के स्तंभों का मूल्य समझने वाले बुद्धिमान लोग उनके बड़े कद्रदान होते हैं।
  • इसतरह वे बेहद शानदार दोस्त, परिवार के सदस्य, और सहयोगी बनते हैं, और हमारी ज़िन्दगी को आसान और खूबसूरत बनाते हैं।

यदि आपके जीवन में भी ऐसे लोग हैं जिनमें अटूट ईमानदारी भरी है, तो उन्हें हमेशा अपने दिल के करीब रखें, उनसे सीखें और उनके साथ बेहतरीन पल गुजारें। वे समाज की तरफ से आपके लिए शानदार तोहफा हैं, जो हमें ज़िन्दगी में बेहतर बनने के लिए प्रेरित करते हैं।

  • Rakel, V. (2012). La Honestidad. Comunicados, Apoderados. Ministerio de Educacion, Gobierno de Chile.
  • Moreno, C. (2004). Claves para el liderazgo ético. Capital Humano.
  • Guenin, L. M. (2005). Intellectual honesty. Synthese. https://doi.org/10.1007/s11229-005-3746-3
  • WHAT IS HONESTY?. Cal State J Med. 1915;13(1):1.
  • Flores Mamani E, Garcia Tejada M, Calsina Ponce W, Yapuchura Sayco A. Las habilidades sociales y la comunicación interpersonal de los estudiantes de la universidad nacional del altiplano – puno. COMUNI@CCIÓN Rev Investig en Comun y Desarro. 2016;