5 शानदार तरकीबें तकियों को साफ़-स्वच्छ रखने की

स्वास्थ्य समस्याओं से बचने और साथ ही तकियों को  श्रेष्ठ स्थिति में बनाये रखने के लिए हमारा सुझाव है कि महीने में कम से कम एक बार अपने तकियों की सफाई करें।
5 शानदार तरकीबें तकियों को साफ़-स्वच्छ रखने की

आखिरी अपडेट: 31 मई, 2018

अगर आप चाहते हैं कि आपके तकिये सेहत के लिए उपयोगी बने रहें, तो उन्हें विशेष रखरखाव की आवश्यकता होती है। तकियों को साफ़-स्वच्छ रखना बड़ा ही महत्वपूर्ण काम होता है।

बहुत ही कम लोग इस बात पर ध्यान देते हैं। हालाँकि, तकिए निरंतर आपके पसीने और धूल के कणों को सोखते रहते हैं। दूसरे शब्दों में, वे माईट्स और बैक्टीरिया को पनपने के लिए आदर्श परिवेश बनाते हैं।

कई लोग अपने तकियों पर रक्षात्मक गिलाफ चढ़ा देते हैं। हालाँकि, एक समय के बाद यह तो तय है कि इन सबके बावजूद भी दाग-धब्बे पड़ेंगे, दुर्गन्ध उत्पन्न होनी आरम्भ हो जाएगी और हम सोचने लगेंगे कि अब उन्हें फेंक देने का समय आ गया है।

ज़रा ठहरिए! ऐसा बड़ा कदम उठाने से पहले, आइये सफाई और रोगाणुओं का नाश करने वाली आजमाई हुई जाँची-परखी तकनीकों पर नज़र डालें। ये आपके तकियों को साफ़-स्वच्छ करके वापस उनके बेहतर हाल में ला सकती हैं और वह भी ऐसे दाम में जो आपकी जेब पर भारी भी नहीं पड़ेगा। 

यहाँ हम तकियों को साफ़-स्वच्छ करने की ऐसी 5 सर्वश्रेष्ठ तरकीबों की जानकारी देना चाहते हैं। आज ही इनका प्रयोग करके देखें और महीने में कम से कम एक बार अपने तकियों को धोने की आदत डाल लें।

1 . तकियों को साफ़-स्वच्छ रखें, आजमायें बेकिंग सोडा और सिरका

तकियों को साफ़-स्वच्छ रखने

बेकिंग सोडा और सफ़ेद सिरके के मिश्रण से एक ऐसा 100% नेचुरल प्रोडक्ट मिलता है जो आपके तकियों के कपड़े को ज्यादा सफ़ेद और मुलायम बनाता है।

इन दोनों ताकतवर सामग्रियों में एंटी-बैक्टीरियल और सफेदी लाने वाले गुण होते हैं। इसके कारण ये धूल और पसीने के दागों की छुट्टी करने में आपके मददगार होते हैं।

सामग्री

1/2 कप बेकिंग सोडा (80 ग्राम)

1/2 कप सफ़ेद सिरका (125 मिलीलीटर)

विधि

  • तकियों को वॉशिंग मशीन में डालें। जब ड्रम पानी से भर जाये तो उसमें बेकिंग सोडा और सफ़ेद सिरका मिला दें। मशीन की सामान्य साइकिल पूरी होने दें, फिर तकिए को निकालकर धूप में सूखने दें।

2 . गरम पानी और नींबू का रस 

यह कोई रहस्य नहीं है कि नींबू का रस सफेदी लाने और कीटाणुओं का नाश करने वाले उन सबसे कारगर पदार्थों में से एक है जिन्हें प्रकृति ने हमें भेंट में दिया है।

इसलिए यह कोई आश्चर्य की बात नहीं है कि जब आप अपने तकियों को साफ़-स्वच्छ करने, उन्हें उनकी बेहतरीन दशा में लाने का प्रयास कर रहे हों तो नींबू आपका बहुत ही अच्छा सहयोगी साबित होगा।

सामग्री

  • 6 नींबू के रस
  • 2 ½ लीटर पानी (10 कप)

विधि

  • पानी को उबाल लें। उबाल आने पर उसमें 6 ताज़े नींबू निचोड़ दें।
  • फिर सावधानी से तकिये को उसमें डुबो दें। यदि आवश्यकता हो तो और पानी डाल लें जिससे तकिया उसमें पूरी तरह से डूब जाये।
  • उसे 2 घंटे तक भींगने के लिए छोड़ दें। फिर इसे कपड़े धोने वाले अपने सामान्य साबुन से धो लें।

3 . बेकिंग सोडा और टी ट्री एसेंशियल ऑयल 

तकियों को साफ़-स्वच्छ रखें: बेकिंग सोडा

बेकिंग सोडा और टी ट्री एसेंशियल ऑयल के मिश्रण से हमें एक ऐसा सूखा डिटर्जेंट मिलता है जो हमारे तकियों की देखभाल के लिए उम्दा होता है।

यह मिश्रण लम्बे समय से पड़े पीले धब्बों से छुटकारा पाने में सहायक होता है। इसके कीटाणुनाशक गुणों की बदौलत यह माइट्स और कीटाणुओं से भी छुटकारा दिलाता है।

सामग्री

  • ½ कप बेकिंग सोडा (80 ग्राम)
  • टी ट्री एसेंशियल ऑयल की 10 बूँदें

विधि

  • सबसे पहले बेकिंग सोडा को एक कटोरे में डालें। फिर इसे टी ट्री एसेंशियल ऑयल में मिला लें।
  • इसे पेस्ट बनने तक अच्छी तरह मिलाते रहें। फिर तकिये पर इस पेस्ट को फैला दें और 45 मिनट तक सोखे जाने के लिए छोड़ दें।
  • समय पूरा होने पर अतिरिक्त मिश्रण को हटाने के लिए इसे किसी ब्रश या कपड़े से रगड़ें।

4 . डिटर्जेंट और सुहागा (बोरेक्स)

कपड़े धोने वाले साबुन और सुहागा की टेकनीक हाल के कुछ वर्षों में सुपरहिट साबित हुई है। आखिरकार इसकी प्रभावशाली क्षमता का इस्तेमाल दुनिया भर में लोग तकियों को साफ़-स्वच्छ रखने, उन्हें एकदम नया बनाने और सौ फीसदी धूल से मुक्त करने में कर रहे हैं।

  • यह मिश्रण धीरे-धीरे जमा होने वाले पसीने और अन्य कणों से मुक्ति दिलाता है। इस तरह यह ऐसे दागों को हटाता है जिनको मिटाना लगभग असंभव हो सकता है।
  • इसके अलावा इसमें एंटी-माईक्रोबियल गुण होते हैं जो माइट्स और अन्य सूक्ष्म जीवों को मारने में मदद करते हैं।

सामग्री

  • 1 कप कपड़े धोने वाला साबुन (200 ग्राम)
  • 1 कप बायोडिग्रेडेबल बर्तन मांजने वाला पाऊडर (250 मिलीलीटर)
  • 1 कप क्लोरीन मुक्त ब्लीच (250 मिलीलीटर)
  • ½ कप सुहागा (80 ग्राम)
  • गरम पानी (आवश्यकता के अनुसार)

विधि

  • सबसे पहले इन सामग्रियों को छूने से बचने के लिए सावधानी के सभी जरूरी उपाय कर लें। क्योंकि अगर ये खुले घावों या आँखों में पड़ जाएँ तो जहरीले हो सकते हैं। हम आपको सलाह देंगे की इस मिश्रण को बनाते समय दस्ताने पहनें और चेहरे पर मास्क लगा लें।
  • इन सब सामग्रियों को अपनी वाशिंग मशीन के कपार्टर्मेंट में डाल दें।
  • फिर मशीन में एक या दो तकिये डाल दें।
  • गरम पानी डालकर मशीन की सामान्य साइकल शुरू कर दें।
  • साइकिल ख़त्म होने पर अपने तकियों को धूप में सूखने के लिए छोड़ दें ताकि नमी से उनमें दुर्गन्ध न आने लगे।

5 . हाइड्रोजन पेरोक्साइड और नींबू

तकियों को साफ़-स्वच्छ रखें: हाइड्रोजन पेरोक्साइड और नींबू

केवल हाइड्रोजन पेरोक्साइड और नींबू के मिश्रण से ही आपको घर में बना एक ऐसा शक्तिशाली ब्लीच मिलता है जिसमें कुछ शानदार सक्रिय तत्व होते हैं। ये तत्व आपके बढ़िया सफ़ेद तकियों पर पसीने और लार से पड़े दागों को दूर करते हैं।

सामग्री

  • ½ कप नींबू का रस (125 मिलीलीटर)
  • 1 कप हाइड्रोजन पेरोक्साइड (250 मिलीलीटर)

विधि

  • गरम पानी से भरी बाल्टी में ये सामग्रियां डालें और तकिये को एक घंटे के लिए डुबोकर छोड़ दें।
  • इसके बाद तकिये को अपनी वाशिंग मशीन की सामान्य रिंस साइकल में धोकर धूप में सूखने दें।

क्या अपने तकियों पर पड़े उन पीले, गंदे दागों को लेकर सोच में पड़े हैं जिन्हें आप अपने ज़हन से निकालने की कोशिश करते रहे हैं ? यह इससे आसान नहीं हो सकता – केवल बताई गई तरकीबों में से कोई एक चुनें और देखिये कितना आसान है अपने प्यारे तकियों को साफ़-स्वच्छ और कीटाणुमुक्त रखना।