गर्सिमियों में होने वाले सिरदर्रद से कैसे राहत पाएं

02 फ़रवरी, 2020
इन दिनों सूरज हर रोज तेज होता जा रहा है और कुछ ही दिनों में मोसम पर्याप्त गर्म हो जाएगा। ऐसे में गर्मियों में होने वाला सिरदर्द कई लोगों के लिए चिंता का कारण होता है। यह आर्टिकल उन कारणों की व्याख्या करता है जिनके कारण आपको गर्मियों में सिरदर्द हो सकता है। साथ ही हम बताएँगे की इसे कैसे रोकें।
 

इसमें कोई शक नहीं है कि गर्मियों में होने वाला सिरदर्द कभी न कभी सभी को परेशान करता है। गर्मियों में सिरदर्द का एपिसोड बढ़ता है। इससे माइग्रेन का एपिसोड भी बढ़ता है।

तमाम देशों में किए गए सर्वे से पता चलता है कि 85-90% आबादी में पिछले साल कम से कम एक बार सिरदर्द होने की रिपोर्ट है। इस तरह सभी हेल्थ ससर्विसेज में सिरदर्द की शिकायत सबसे ज्यादा होती है।

हालाँकि पुरुष इसका उतना शिकार नहीं होते जितनी महिलायें। 80% पुरुषों में गत साल सिरदर्द हुआ था लेकिन महिलाओं में यह तादाद 95% तक होती है। इसी तरह माइग्रेन पुरुषों की तुलना में महिलाओं पर ज्यादा असर डालता है। 15% आबादी इसकी शिकार होती है।

गर्मियों में सिरदर्द के रिस्क फैक्टर क्या हैं? जबकि यह ज्यादा रेस्ट, आउटडोर एक्टिविटी और निश्चित रूप से बेहतर मौसम, सबके लिए सही वक्त माना जाता है?

दरसल ये स्थितियाँ और एक्टिविटी ही सिरदर्द का कारण भी बन सकती हैं।

गर्मियों में होने वाले सिरदर्द के पीछे छिपे कुछ कारणों पर हम यहां ध्यान देंगे।

गर्मियों में सिरदर्द का कारण

सिरदर्द कई कारणों से हो सकता है। ज्ञात कारणों से होने वाली कुछ विशेष बीमारियों और स्थितियों को छोड़कर, अक्सर सिरदर्द के एक ही कारण नहीं होते हैं।

गर्मियों में सिरदर्द कोई अपवाद नहीं है। आपके सिर पर सिर्फ इसलिए दबाव नहीं पड़ा है क्योंकि गर्मी का मौसम है। यह कई स्थितियों के कारण होता है जो साल के इस वक्त मौजूद होती हैं।

गर्मियों में तमाम स्थितियों का संयोजन अक्सर अप्रिय सिरदर्द का कारण बन सकता है। एक आम कारण यह है कि आप छुट्टी लेते हैं और आपकी नींद की आदतों में बदलाव होता है, साथ ही सूर्य की रोशनी का ज्यादा एक्सपोजर होता है।

गर्मी

बेशक गर्मी सिरदर्द के सबसे आम कारणों में से एक है। गर्मियों के दौरान शरीर में ब्लड वेसेल्स ज्यादा टेम्परेचर के कारण फैल जाती हैं।

इसका मतलब है ब्लड वेसेल्स बाहरी एनर्जी से हीट एक्सचेंज करने के लिए आकार में बढ़ जाती हैं और हीट स्ट्रोक को रोकने में मदद करती हैं। दुर्भाग्य से ब्लड वेसेल्स के इस फैलाव के साइड इफेक्ट के रूप में माइग्रेन हो सकता है।

आप पसंद कर सकते हैं: 6 प्रभाव जो चिंता और एंग्जायटी से आपके शरीर पर पड़ते हैं

शराब पीना और डिहाइड्रेशन

गर्मियों के दौरान, आपका शरीर उच्च तापमान के कारण सामान्य से अधिक तरल पदार्थों की मांग करता है। लोग अक्सर गर्म महीनों के दौरान शराब के साथ अपनी प्यास बुझाने की कोशिश करते हैं। हालांकि, शराब हाइड्रेट नहीं करता है। इसके विपरीत: आप और भी अधिक निर्जलित हो जाते हैं और फिर आपको सिरदर्द हो जाता है।

स्लीप शेड्यूल में बदलाव

गर्सिमियों में होने वाले सिरदर्रद

 

गर्मियों में इंसोम्निया और बिगड़ जाती है और माइग्रेन या सिरदर्द को ट्रिगर कर सकती है।

दिन और रात के समय में परिवर्तन भी एक कारण हो सकता है जिससे आपके माइग्रेन बिगड़ रहे हैं। जब दिन के दौरान शरीर को अधिक प्रकाश के संपर्क में लाया जाता है, तो परिणामस्वरूप नींद की आदतें और कार्यक्रम बदल सकते हैं।

इसका एक क्लासिक परिणाम यह है कि गर्मियों के दौरान, आप कम घंटे सोते हैं या अनिद्रा से पीड़ित हो सकते हैं।

जो लोग नियमित रूप से अनिद्रा से पीड़ित नहीं हैं वे गर्मियों के दौरान इसका अनुभव कर सकते हैं। शायद काम अधिक आराम से होता है, आपके बच्चों को स्कूल के लिए जल्दी उठना नहीं पड़ता है, फोन और टेलीविजन स्क्रीन लंबे समय तक रहते हैं।

साथ ही, आपका सामाजिक जीवन फलफूल रहा है, आप अधिक शराब और कैफीन (एक मूत्रवर्धक) का सेवन करते हैं, और परिणामस्वरूप, आपको अधिक सिरदर्द होता है।

गर्मियों के होने वाले सिरदर्द को कैसे रोकें

आइए नजर डालते हैं कि गर्मियों के सिरदर्द की शुरुआत को रोकने के लिए आप क्या उपाय कर सकते हैं। ये सभी सरल कदम हैं जिन्हें अपने मुख्य उद्देश्यों के आधार पर दो समूहों में विभाजित किया जा सकता है:

  • गर्मी की गर्मी का मुकाबला करने के लिए।
  • अस्वास्थ्यकर गर्मियों की आदतों का मुकाबला करने के लिए।

इसे भी पढ़ें : हमें सिरदर्द को लेकर कब फिक्रमंद हो जाना चाहिए?

गर्मी का मुकाबला करने और सिरदर्द को रोकने के लिए एहतियाती कदम

  • धूप से सावधान रहें: गर्मियों का सूरज शरीर पर बहुत कठिन होता है, इसलिए अपने आप को टोपी से बचाने और सफेद कपड़े पहनने के लिए यह महत्वपूर्ण है। इसके अलावा, धूप का चश्मा उपयोगी होते हैं। यदि संभव हो, तो दोपहर के पहले या बाद में अपनी बाहरी गतिविधियों को करने की कोशिश करें, क्योंकि जब सूरज सबसे मजबूत होता है।
  • तापमान में भारी बदलाव से बचें: गर्मियों में, लोगों के लिए एयर कंडीशनर को फुल ब्लास्ट पर रखना सामान्य बात है। हालांकि, उन क्षेत्रों में प्रवेश करना और छोड़ना जहां तापमान बहुत अधिक या बहुत कम है, सिरदर्द के लिए एक ट्रिगर हो सकता है।
  • घर को ठंडा रखें – ठंडा नहीं: अपने घर के अंदर, अपने एयर कंडीशनर के साथ ठंड के बजाय तापमान को ठंडा रखने की कोशिश करें। इसलिए, यदि आप गर्मी को हराना चाहते हैं, तो पंखे एक बेहतर विकल्प हैं।
  • हाइड्रेटेड रहें: गर्मियों के दौरान, शरीर को सामान्य से अधिक पानी की आवश्यकता होती है। निर्जलीकरण से बचने के लिए, नियमित रूप से तरल पदार्थ पीना महत्वपूर्ण है और ऐसे पेय से बचें जो आपको जल्दी से निर्जलित करेंगे, जैसे कि शराब।
 

गर्मियों में हाइड्रेटेड रहना ज़रूरी है और यह सिरदर्द को रोकने में भी मदद कर सकता है। इसलिए यह सुनिश्चित करने में सावधानी बरतें कि पर्याप्त पानी पी रहे हैं या नहीं!

गर्मियों की आदतों के विरुद्ध उपाय

  • स्वस्थ भोजन करना: आप अधिक खाद्य पदार्थों का सेवन करके अपने तरल पदार्थों का सेवन बढ़ा सकते हैं, जो पानी प्रदान करते हैं, जैसे कि फल और सब्जियां। माइग्रेन पीड़ितों के लिए, उन खाद्य पदार्थों से बचना महत्वपूर्ण है जिनमें ऐसे पदार्थ होते हैं जो सिरदर्द को ट्रिगर कर सकते हैं। इस प्रकार के खाद्य पदार्थों में सॉसेज और चॉकलेट शामिल हैं।
  • रेगुलर स्लिप शिड्यूल बनाए: अपनी दिनचर्या को बदलना गर्मियों में एक आदत लगती है। हालांकि, कई चिकित्सा विशेषज्ञ इस बात से सहमत हैं कि सबसे अच्छी बात यह है कि आप पूरे साल अपनी नींद का समय काफी हद तक एक जैसा रखें। एक ही समय में बिस्तर पर जाने और जागने के अलावा, आपको हर रात एक ही मात्रा में नींद लेते रहना चाहिए।
  • यदि आप समय पर जाग सकते हैं या बिस्तर पर जा सकते हैं, तो आप सूर्य के प्रकाश के सबसे तीव्र घंटों के दौरान तीस मिनट तक झपकी लेने की कोशिश कर सकते हैं। इसके अलावा, यह आपको सबसे मजबूत होने पर धूप में जाने से रोकेगा।

निष्कर्ष

गर्मियों के दौरान, हम उन कारकों की बढ़ती संख्या के संपर्क में हैं जो सिरदर्द की शुरुआत का कारण बन सकते हैं। निर्जलीकरण और अनिद्रा के साथ मिलकर उच्च तापमान यह समझा सकता है कि वर्ष के इस समय के दौरान अधिक लोग अधिक सिरदर्द से क्यों पीड़ित हैं।

सौभाग्य से, कुछ कदम हैं जो आप अपनी कुछ आदतों को संशोधित करके खुद की बेहतर देखभाल कर सकते हैं। ये दोनों कुछ तरीके हैं जो गर्मियों के सिरदर्द की शुरुआत को रोकते हैं और साथ ही मौजूदा दर्द को शांत करते हैं।

इन टिप्स को ध्यान में रखें!

 
  • Cid, J. María Loreto. Cefaleas, evaluación y manejo inicial. Revista Médica Clínica Las Condes 25.4 (2014): 651-657.
  • Auber, Gregory J. Cómo eliminar el calor: tratamiento de los trastornos causados por el calor. Nursing (Ed. española) 23.6 (2005): 28-30.
  • Visens, Laura S. Actualización en la prevención y tratamiento de la migraña. Medicina (Buenos Aires) 74.2 (2014).