नाखून के फंगस को खत्म करने के 6 उपाय

नाखून के फंगस को ख़त्म करने के लिए उन सामग्रियों का उपयोग करना वास्तव में महत्वपूर्ण है जो फंगस के प्रजनन को रोकते। इससे उनकी वंशवृद्धि मुश्किल हो जाती है। जब तक फंगस खत्म न हो जाए इस उपचार को जारी रखना चाहिए।
नाखून के फंगस को खत्म करने के 6 उपाय

आखिरी अपडेट: 14 मई, 2018

नाखूनों में एक तरह के फंगल संक्रमण का वैज्ञानिक नाम ऑनिकोमाइकोसिस (Onychomychosis) है। नाखून के फंगस की यह एक ऐसी स्थिति है जो क्षतिग्रस्त नाखूनों को प्रभावित करती है।

नाखून को संक्रमित करने वाले फंगस में कैंडिडा सबसे आम है। इसके कारण नाखून काले, हरे या क्लासिक पीले हो सकते हैं। नाख़ून की मोटाई में वृद्धि हो सकती है।

अपने माइल्ड रूप में, कम लक्षण होने के कारण समस्या की ओर ध्यान न जाना बहुत आम है। हालांकि, नाखून के फंगस का संक्रमण एडवांस्ड स्टेज में जा सकता है। इससे दर्द हो सकता है। यहाँ तक कि नाखूनों को खोना भी पड़ सकता है।

सौभाग्य से, नाखून के फंगस के लिए कुछ प्राकृतिक समाधान हैं जो आपको उपचार की प्रक्रिया में तेजी लाने और नाखूनों के रंग-रूप में सुधार करने में मदद करेंगे।

इस बार हम ऐसे 6 सरल नेचुरल उपायों के बारे में बात करेंगे।

1. नाखून के फंगस के लिए एपल साइडर सिरका और हाइड्रोजन पेरोक्साइड

नाखून के फंगस में एपल साइडर सिरका और हाइड्रोजन पेरोक्साइड

एपल साइडर सिरका और हाइड्रोजन पेरोक्साइड का संयोजन हाथों और पैरों के नाखूनों से कवक को खत्म करने के लिए शक्तिशाली एंटिफंगल उपचार बनाता है। इसके गुणों को 90% रबिंग अल्कोहल से मिलाकर बढ़ाया जा सकता है, जो एक एंटीबायोटिक और एंटीसेप्टिक एजेंट है और हजारों विभिन्न प्रकार के कीटाणुओं से लड़ता है।

सामग्री

  • ¼ कप एपल साइडर सिरका
  • ¼ कप हाइड्रोजन पेरोक्साइड
  • 2 बड़ा चम्मच
  • 2 चम्मच रबिंग स्पिरिट (90% सोल्यूशन)

दिशा-निर्देश

  • एक ग्लास कंटेनर में सभी सामग्रियों का मिश्रण करें, हिलायें और कुछ घंटों तक छोड़ दें।
  • इसके बाद, मिश्रण में एक रूई को भिगो दें। इसे नाखूनों पर दिन में कई बार लगाएं।
  • इस उपचार को दोबारा दोहराएं और आप थोड़े ही समय में परिणाम देखेंगे।

2. नाखून के फंगस को रोकने के लिए लहसुन

लहसुन सबसे प्रभावी प्राकृतिक एंटीमाइक्रोबियल्स में से एक है। कील फंगस का इलाज करने के लिए इसका आप उपयोग कर सकते हैं।

हालांकि इसे सीधे लगाया जा सकता है। आप इससे पैरों को धोकर इसका लाभ ले सकते हैं।

सामग्री

  • 10 लहसुन के टुकड़े
  • 2 कप पानी

दिशा-निर्देश

  • लहसुन की 10 कलियों को पीसें। उन्हें एक सॉसपैन में पानी के साथ मिलाएं।
  • इसे उबाल लें और 3 से 5 मिनट के लिए छोड़ दें। फिर इसे आग से उतार दें।
  • जब पानी का तापमान एकदम ठंडा हो जाता है, तो 20 मिनट के लिए पानी में अपने पैरों को भिगो दें।
  • इस उपचार को एक सप्ताह में 3 बार दोहराएं।

3. नाखून के फंगस को रोकने के लिए नेचुरल योगर्ट

नाखोन के फंगस के लिए योगर्ट

योगर्ट में एक्टिव बैक्टीरिया कल्चर होता है। यह उस परिवेश को बदल देता है जिसकी जरूरत फंगस को जीवित रहने के लिए होती है।

सामग्री

  • आधा कप नेचुरल योगर्ट
  • 1 पेंटब्रश

दिशा-निर्देश

  • साफ पेंटब्रश का उपयोग करें। प्रभावित नाखूनों पर दही को भरपूर मात्रा में लगाएं।
  • इसे सूखने दें और नम कपड़े से साफ करें ।
  • दिन में तीन बार इस उपाय को दोहराएं।

याद रखें कि आप अपने आहार में भी दही को शामिल कर सकते हैं। इसके प्रोबायोटिक्स शरीर की इम्युनिटी को सुदृढ़ करते हैं और अन्य प्रकार के फंगल संक्रमण को रोकते हैं।

4. टी ट्री एसेंशियल आयल

टी ट्री एसेंशियल आयल बाहरी फंगस संक्रमणों के उपचार में का व्यापक रूप से उपयोग किया जाता है। इसके एंटीसेप्टिक, एंटी इन्फ्लैमेटरी, और एंटिफंगल गुण फंगस की वृद्धि को धीमा करते हैं और नाखूनों के स्वास्थ्य में सुधार करते हैं।

सामग्री

  • 3 बूंदे टी ट्री आयल की
  • 1 रूई का टुकड़ा

दिशा-निर्देश

  • प्रभावित नाखून पर टी ट्री आयल की बूंदों को लगाएं और एक रूई से समान रूप से फैलाएं।
  • कुछ दिनों के भीतर अच्छे परिणाम के लिए 100% शुद्ध तेल का इस्तेमाल करें।
  • जब तक नाख़ून स्वस्थ नहीं हो तब तक इसका इस्तेमाल करें।

5. विक्स वेपोरब

विक्स वैपोरुब

विक्स वेपोरब एक मलहम है जो सांस से जुड़ी बीमारियों के इलाज के लिए प्रयोग किया जाता है। कितने लोगों को नहीं पता है कि इसके रोगाणुरोधी गुण फंगस से संक्रमित नाखूनों को ठीक करने में मदद करते हैं।

सामग्री

  • विक्स वैपोरब
  • 1 पट्टी

दिशा-निर्देश

  • प्रभावित नाखून पर विक्स वेपोरब को लगाएं और एक पट्टी से ढंके।
  • हर छह घंटों बाद दोबारा वेपोरब लगाएं और फिर से कवर करें।
  • जब तक आपको अपेक्षित परिणाम न दिखने लगें इसे लगाते रहें।

6. नमक

नमक में एंटिफंगल गुण होते हैं जिससे आप अपने नाखून की फंगस को ठीक करने का लाभ ले सकते हैं।

सामग्री

  •  1 चम्मच नमक
  • 5 नींबू के रस की बूँदें

दिशा-निर्देश

  • नींबू के रस की कुछ बूंदों के साथ नमक को मिलाएं और प्रभावित नाखून के ऊपर सीधे लेप करें।
  • इसे 30 मिनट के लिए रखें , फिर धोएं।
  • प्रक्रिया को रोजाना दोहराएं।

यह सरल घरेलू उपचार नाखूनों के नुकसान को रोकने वाले फंगस के विकास को रोकते हैं।



  • Gopal J, Anthonydhason V, Muthu M et al. Authenticating apple cider vinegar’s home remedy claims: antibacterial, antifungal, antiviral properties and cytotoxicity aspect. Nat Prod Res. 2019 Mar;33(6):906-910.
  • Shang A, Cao SY, Xu XY, Gan RY et al. Bioactive Compounds and Biological Functions of Garlic (Allium sativum L.). Foods. 2019 Jul 5;8(7):246.
  • Wińska K, Mączka W, Łyczko J, Grabarczyk M et al. Essential Oils as Antimicrobial Agents-Myth or Real Alternative? Molecules. 2019 Jun 5;24(11):2130.
  • Kamatou GP, Vermaak I, Viljoen AM, Lawrence BM. Menthol: a simple monoterpene with remarkable biological properties. Phytochemistry. 2013 Dec;96:15-25.
  • Sakkas H, Papadopoulou C. Antimicrobial Activity of Basil, Oregano, and Thyme Essential Oils. Journal of Microbiology and Biotechnology. 2017;27(3):429-438.
  • Nasrollahi Z, Abolhasannezhad M. Evaluation of the antifungal activity of olive leaf aqueous extracts against Candida albicans PTCC-5027. Curr Med Mycol. 2015 Dec;1(4):37-39.
  • Letscher-Bru V, Obszynski CM, Samsoen M, Sabou M et al. Antifungal activity of sodium bicarbonate against fungal agents causing superficial infections. Mycopathologia. 2013 Feb;175(1-2):153-8.
  • Romero-Cerecero O, Zamilpa A, Jiménez-Ferrer JE, Rojas-Bribiesca G, Román-Ramos R, Tortoriello J. Double-blind clinical trial for evaluating the effectiveness and tolerability of Ageratina pichinchensis extract on patients with mild to moderate onychomycosis. A comparative study with ciclopirox. Planta Med. 2008 Oct;74(12):1430-5.
  • Menéndez S, Falcón L, Maqueira Y. Therapeutic efficacy of topical OLEOZON® in patients suffering from onychomycosis. Mycoses. 2011 Sep;54(5):e272-7.